Surjeet Singh Rathore : करणी सेना के नेता सुरजीत सिंह राठौर गिरफ्तार, मॉडल ने लगाए..

करणी सेना के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सुरजीत सिंह राठौर को मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. उनपर एक मॉडल ने छेड़छाड़ करने, गाली देने, परेशान करने और बदनाम करने का आरोप लगाया था. मॉडल ने बांगुर नगर लिंक रोड पुलिस स्टेशन जाकर एफआईआर भी दर्ज करवाई थी. जिसके बाद पुलिस ने धारा 354 (ए) (डी), 500,509,501,67 के तहत मामला दर्ज किया. पुलिस पूरे मामले की जांच पड़ताल में जुटी हुई है. बता दें कि सुशांत सिंह राजपूत मामले में सुरजीत सिंह के बयानों ने खूब सुर्खियां बटौरी थी.

सुरजीत सिंह राठौर को पुलिस ने किया गिरफ्तार

मिड डे की रिपोर्ट के मुताबिक, शिकायतकर्ता ने पुलिस से संपर्क कर आरोप लगाया था कि किसी ने उसके नाम से एक फर्जी इंस्टाग्राम अकाउंट बनाया है. उन्होंने आगे कहा कि अपराधी ने छवि और वीडियो-साझाकरण सेवा और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर रिश्तेदारों, दोस्तों को अपमानजनक संदेश भेजकर उसे बदनाम किया. जिसके बाद अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 354 (ए) (डी), 500, 501, 506, 506 (2) और 509 और आईटी अधिनियम की धारा 67 के तहत मामला दर्ज किया गया था. डीसीपी अजय कुमार बंसल और एसीपी रेणुका बागड़े के मार्गदर्शन में सीनियर इंस्पेक्टर प्रमोद तावड़े, एपीआई विवेक तांबे, भादर्गे और उनकी टीम ने जांच शुरू की.

पुलिस ने कही ये बात

बांगुर नगर लिंक रोड पुलिस स्टेशन के एक अधिकारी ने कहा, “इंस्टाग्राम से सूचना मिलने और राठौर की कथित संलिप्तता के बारे में जानने के बाद, एक पुलिस टीम का गठन किया गया और हमने उसकी तलाश शुरू की. जिसके बाद आखिरकार, सुरजीत सिंह राठौर को गिरफ्तार कर लिया गया.

जांच कर रही पुलिस

अधिकारी ने कहा कि पूछताछ के दौरान, पुलिस को पता चला कि राठौर एसएसआर फिल्म्स बैनर के एक अभिनेता, निर्माता और प्रबंध निदेशक हैं. राठौर और शिकायतकर्ता पहली बार 2021 में इंस्टाग्राम पर संपर्क में आए. मॉडल ने अपने बयान में आरोप लगाया कि राठौर ने उन्हें किसी चीज का प्रस्ताव दिया था, जब उन्होंने उसे ठुकरा दिया, तो उन्होंने यह धमकी दी कि वह इंडस्ट्री में काम नहीं करेगी और उसे परेशान करना शुरू कर दिया. अधिकारी ने कहा, “राठौर ने फर्जी इंस्टाग्राम अकाउंट बनाया और अश्लील संदेश भेजने के लिए इसका इस्तेमाल किया.” जयपुर के रहने वाले सुरजीत सिंह राठौर को एक दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया गया. एक अन्य अधिकारी ने कहा, “पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि क्या उसका आपराधिक रिकॉर्ड है.”

 

Leave a Comment