कैप्टन, सिद्धू, भगवंत मान बेअदबी के मुददे पर जिन ‘सबूतों’ का दावा कर रहे हैं उनको सांझा करें: बादल

आपने  इन सालों में  सबूतों को खालसा पंथ, एस.आई.टी और अदालतों से क्यों छिपाकर रखा? अकाली दल अध्यक्ष ने कांग्रेस तथा आप पार्टी के नेताओं से कहा

शिरोमणी अकाली दल  का सरकार की जांच में कोई विश्वास नही है, लेकिन हम  पूरी तरह से सिट से सहयोग करेंगे

चंडीगढ़, 15 मईः

शिरोमणी अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने आज यहां कहा है कि काग्रेसी नेताओं और उनके सहयोगी वे चाहे खुलेआम हों यां गुप्त रूप से हों  जो इस बात का दावा कर रहे हैं कि उनके पास इस बात का ठोस और पक्का प्रमाण हैं कि किसने पवित्र श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी महाराज की बेअदबी जैसे पाप को अंजाम दिया है, वे सार्वजनिक रूप से उस सबूत को खालसा पंथ, अदालत, एस.आई.टी और लोगों के सामने उन सबूतों को उजागर करें।

बादल ने अमरिंदर सिंह , सुनील जाखड़, नवजोत सिद्धू, एस.एस. रंधावा जैसे कांग्रेसी नेताओं से आग्रह किया कि वे सिख समुदाय , एसआईटी और न्यायपालिका के साथ सांझा करें कि उन्होने इतने सालों तक इतने गहन धार्मिक महत्वपूर्ण मुददे पर जानबूझकर सच्चाई क्यों छिपाई, इस तरह से उन्होने सिखों की भावनाओं को ठेस पहुंचाई है। पंजाब के पूर्व उपमुख्यमंत्री ने पूछा कि ‘उन्होने कभी अपने पास मौजूद सबूतों को सार्वजनिक करने के बारे में  भी क्यों नही सोचा?

अकाली दल अध्यक्ष ने कहा कि अगर अमरिंदर , नवजोत सिद्धू , जाखड़ , भगवंत मान और अन्य नेताओं के पास कुछ सबूत हैं लेकिन वह अदालत और सिख पंथ के सामने उजागर नही कर रहे, तो यह सिर्फ काूननी नाराजगी नही बल्कि पवित्र ग्रंथों के बेअदबी के खिलाफ भी बहुत बड़ी बेअदबी है। ‘ यह वास्तव में आश्चर्यजनक, अविश्वसनीय है कि इन नेताओं के पास सबूत है वे फिर भी इसे सार्वजनिक नही कर रहे हैं। इसके विपरीत , अगर उनके पास वह सबूत नही है, तो वे ऐसी अत्यधिक संवेदनशील मामले पर झूठ बोलने के दोषी हैं।

बादल ने  इन नेताओं से कहा कि ‘ श्री  गुरु ग्रंथ साहिब और महान गुरु साहिबान को इन सबूतों को सौंप दें तथा इस पड़ाव पर भी हर  जानकारी को सिख समुदाय, एस.आई.टी और न्यायपालिका के साथ सांझा करें तथा उन कारणों को भी जिनके कारण इन्होंने अभी तक उन पक्के सबूतों को सांझा नही किया था।

अकाली नेता ने स्पष्ट किया कि हालांकि उनकी पार्टी  को ‘राजनीति से प्रेरित पिछली एस.आई.टी ’ में कोई विश्वास नही था, फिर भी ‘ हमने पहले भी उनके सामने पेश होकर पूरा सहयोग किया था क्योंकि हम कानून तथा न्यायपालिका में पूरा विश्वास रखते हैं।

बादल ने कहा कि इसी तरह शिरोमणी अकाली दल ‘ नई एस.आई.टी के साथ पूरा सहयोग करेगी, बावजूद इसके कि  कांग्रेस सरकार का एकमात्र उदेदश्य राजनीतिक प्रतिशोध है जो अपनी विफलताओं से , अयोग्यताओं से तथा कुप्रबंधन से लोगों का ध्यान भटकाने का प्रयास करना चाहती हैं।

Leave a Comment