चक्रवाती तूफान ‘ताउते’ के कारण एक बजरा बिना लंगर के समुद्र में बहा, 273 लोग थे सवार

मुंबई, 17 मई

अरब सागर में उठे गंभीर चक्रवाती तूफान ‘ताउते’ के कारण मुंबई के तट से एक बजरा बिना लंगर के समुद्र में बह गया है, जिस पर 273 लोग सवार हैं। अधिकारियों ने बताया कि ‘ताउते’ के सोमवार की शाम गुजरात तट पर पहुंचने और उसके भीषण होने का अनुमान है।

नौसेना के एक प्रवक्ता ने बताया, ‘‘बॉम्बे हाई के हीरा तेल क्षेत्र से बजरा संख्या ‘पी305′ के बहने और इस संबंध में सहायता का अनुरोध मिलने पर एनआईएस कोच्चि को तुरंत खोज और बचाव कार्य के लिए रवाना किया गया है। बजरा पर 273 लोग सवार हैं।’ यह तेल क्षेत्र मुंबई से करीब 70 किलोमीटर दूर दक्षिण-पश्चिम में स्थित है। बजरा आकार में नौका की तरह होता है लेकिन इसमें नीचे कक्ष और ऊपर छत होती है।

प्रवक्ता ने बताया, ‘भारत के पश्चिमी तट पर तबाही मचाने वाले चक्रवाती तूफान के मद्देनजर मानवीय सहायता और आपदा राहत कार्य के लिए अन्य कई जहाजों को भी तैयार रखा गया है।’ युद्ध पोत आईएनएस कोच्चि के शाम करीब चार बजे बजरा के पास पहुंचने का अनुमान है।

मुंबई में मोनो रेल सेवा दिन भर के लिए बंद की गयी है। मध्य रेलवे की लोकल ट्रेन सेवा घाटकोपर से विखरोली के बीच प्रभावित रही।

Leave a Comment