मूसेवाला के गांव में हुआ हंगामा, सिंगर के घर सिक्योरिटी से लोग नाराज़

The News Air: पंजाब के CM भगवंत मान शुक्रवार को मानसा के गांव मूसा पहुंचे हैं। वह पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला के मां-बाप से मुलाक़ात कर रहे हैं। उन्हें 8 बजे पहुंचना था, लेकिन मूसा गांव में विरोध को देखते हुए वे 2 घंटे देरी से पहुंचे। इससे पहले मूसा गांव पहुंचे AAP विधायक गुरप्रीत सिंह बणावाली काे लोगों का विरोध झेलना पड़ा। लोगों ने उन्हें बैरंग वापस लौटा दिया।
पुलिस की सुरक्षा से परेशान गांव वालों ने उनके ख़िलाफ़ नारेबाज़ी की। लोगों का कहना है कि पुलिस ने CM के दौरे के बहाने मूसेवाला के रिश्तेदारों को घर के भीतर जाने से रोका। विधायक ने लोगों से हाथ जोड़कर माफ़ी माँगी। CM के दौरे को देखते हुए यहां कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है।
मूसेवाला की रविवार शाम को हमलावरों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। मान सरकार ने एक दिन पहले ही मूसेवाला की सुरक्षा घटाई थी। हालांकि, जिस वक़्त हत्या हुई, मूसेवाला के साथ उनके दोनों गनमैन नहीं थे। इसको लेकर परिवार के भीतर सरकार को लेकर नाराज़गी भी है।

92 MLA फिर भी कोई संस्कार में नहीं पहुंचा

आम आदमी पार्टी के पंजाब में 117 में से 92 MLA हैं। इसके बावज़ूद मूसेवाला के संस्कार में कोई नहीं पहुंचा था। इसको लेकर लगातार पार्टी पर सवाल उठ रहे थे। जिसके बाद कुछ विधायक उनके घर पहुंचे। कल वित्त मंत्री हरपाल चीमा और पंचायत मंत्री कुलदीप धालीवाल मूसा गांव पहुंचे थे। उन्होंने फ़ोन पर परिजनों की CM भगवंत मान से बात भी कराई।

संगरूर उपचुनाव की टेंशन

विधानसभा चुनाव में आम आदमी पार्टी को सबसे ज़्यादा समर्थन यूथ का मिला था। हालांकि, सिद्धू मूसेवाला की हत्या के बाद युवाओं में नाराज़गी है। 23 जून को संगरूर लोकसभा सीट पर उपचुनाव होना है। ऐसे में अगर आप सरकार परिजनों को संतुष्ट न कर सकी तो फिर संगरूर सीट पर उन्हें इसका अंजाम भुगतना पड़ सकता है। इसीलिए CM मान कल दिल्ली में अरविंद केजरीवाल से मिले। जिसके बाद उनके मूसा गांव जाने का कार्यक्रम बन गया।

Leave a Comment