पंजाब की पहली आक्सीजन ऐक्सप्रैस 40 मीट्रिक टन तरल मैडीकल आक्सीजन लाने के लिए बोकारो रवाना

चंडीगढ़, 15 मईः

आज प्रातः काल बोकारो की तरफ से पंजाब की पहली आक्सीजन ऐक्सप्रैस के रवाना होने से राज्य जल्द ही अपने पूरे 80 मीट्रिक टन आक्सीजन कोटा उठाने की स्थिति में होगा जिससे राज्य के जीवन रक्षक मैडीकल सामग्री के स्टाक को और मजबूती मिलेगी।

इस सम्बन्धी जानकारी देते हुये आक्सीजन कंट्रोल रूम की निगरानी कर रहे सीनियर आई.ए.एस. अधिकारी राहुल तिवारी ने बताया कि विभाग ने टैंकर की ऊँचाई और आक्सीजन की सप्लाई ले जाने के लिए एजेंसियों को पेश आई मुश्किलों को दूर कर लिया है जोकि इस घाटक वायरस के खिलाफ राज्य की लड़ाई में महत्वपूर्ण है।

उन्होंने बताया कि हम दो आई.एस.ओ. कंटेनर खरीदने और इनको प्रयोग में लाने के योग्य हो गए हैं, जो रेलवे की एच.बी.एल. जरूरतों के अनुसार उचित हैं और हम आक्सीजन खरीद प्रक्रियाओं में तेजी लाने और सुचारू खरीद के लिये पंजाब की भरोसेमन्द संस्था मार्कफैड की सेवाओं ले रहे हैं जिससे यह यकीनी बनाया जा सके कि राज्य में कहीं भी आक्सीजन की कमी न रहे।

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह की मरीजों को मानक स्वास्थ्य सहूलतें मुहैया करवाने की वचनबद्धता को दोहराते हुये तिवारी ने कहा कि राज्य द्वारा आने वाले दिनों में आक्सीजन की जरूरत का अनुमान लगाने के लिए योजना बनाई जा रही है और राज्य द्वारा टैंकरों का कोटा बढ़ाने के लिए केंद्र सरकार पर दबाव डाला जा रहा है जिससे आवंटन की गई सारी आक्सीजन को समय पर और सुचारू ढंग से ले जाया जा सके।

रेल ऐक्सप्रैस तुरंत बोकारो के लिए रवाना हो गई है जिस संबंधी मुख्य सचिव विनी महाजन ने भी टवीट किया है और आक्सीजन कंट्रोल रूम के अधिकारियों और मार्कफैड के ठोस प्रयासों की सराहना की है।

Leave a Comment