Poco Buds Pro Genshin Impact Edition हुए Bluetooth SIG साइट पर लिस्ट, 26 अप्रैल को होंगे लॉन्च!

Poco की ओर से जल्द ही ट्रू वायरलेस इयरबड्स Poco Buds Pro Genshin Impact Edition लॉन्च किए जा सकते हैं। ब्रांड इस महीने के अंत में, 26 अप्रैल को, Poco F4 GT को लॉन्च कर सकती है। इसी के साथ हमें Poco Buds Pro Genshin Impact Edition भी देखने को मिल सकते हैं। पोके के इन अपकमिंग वायरलेस इयरबड्स को एक सर्टिफिकेशन साइट पर देखा गया है जिसका खुलासा एक जाने माने टिप्स्टर ने भी किया है।

टिप्स्टर मुकुल शर्मा (@stufflistings) ने अपने ट्विटर हैंडल पर एक पोस्ट शेयर की है जिसमें Poco Buds Pro Genshin Impact Edition को Bluetooth SIG सर्टिफिकेशन पर लिस्टेड दिखाया गया है। टिप्स्टर ने जो पोस्ट शेयर की है उसमें Xiaomi पेरेंट ब्रांड के कई और प्रोडक्ट्स भी लिस्टेड दिखाई दे रहे हैं। हालांकि, कंपनी ने इसकी पुष्टि नहीं की है कि Poco F4 GT के साथ ही Poco Buds Pro Genshin Impact Edition का लॉन्च किया जाना है। अभी यह केवल एक कयास है, क्योंकि Poco F4 GT का लॉन्च बहुत नजदीक है। बहुत संभव है कि कंपनी दोनों डिवाइसेज को एक साथ लॉन्च कर सकती है।

Poco Buds Pro Genshin Impact Edition को Bluetooth SIG सर्टिफिकेशन में TWSEJ01ZM मॉडल नम्बर के साथ लिस्ट किया गया है। सर्टिफिकेशन साइट पर इयरबड्स के स्पेसिफिकेशंस के बारे में कोई संकेत नहीं मिलता है। लेकिन शाओमी ने इससे पहले Redmi AirDots 3 Pro Genshin Impact Edition को लॉन्च किया था। बहुत संभव है कि नए पोको इयरबड्स में भी वैसे ही स्पेसिफिकेशंस देखने को मिल सकते हैं। इसके आधार पर कहा जा सकता है इनमें 9mm के ड्राइवर देखने को मिल सकते हैं और एक्टिव नॉइस कैंसिलेशन भी देखने को मिल सकता है, जो कि 35 डेसीबल्स तक का होगा। इसके अलावा इनमें ट्रांसपेरेंसी मोड भी देखने को मिल सकता है।

Bluetooth 5.2 का सपोर्ट डिवाइस की Bluetooth SIG लिस्टिंग में भी देखा जा सकता है। यह IPX4 वॉटर रसिस्टेंस रेटिंग के साथ आ सकते हैं। इनमें ट्रिपल माइक्रोफोन और गेस्चर कंट्रोल सपोर्ट भी देखने को मिल सकता है। डिवाइस में 35mAh की बैटरी प्रत्येक बड में दी जा सकती है जो 6 घंटे का कुल बैकअप दे सकते हैं। इसके अलावा चार्जिंग केस में 470mAh बैटरी देखने को मिल सकती है जो 28 घंटे का कुल बैकअप दे सकते हैं। हालांकि, अभी इन स्पेसिफिकेशंस को लेकर कोई पुष्टि नहीं की जा सकती है। यह केवल कयास मात्र है, इसलिए इन्हें पूर्ण सत्य नहीं माना जा सकता है।

Leave a Comment