20 मिनट तक यूँ फंसा रहा PM Modi का क़ाफिला, CM चन्नी ने नहीं उठाया फ़ोन!, पंजाब पुलिस से..

The News Air – (बठिंडा) पंजाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक का बड़ा मामला सामने आया है। जिसको लेकर केंद्रीय गृह मंत्रालय का दावा है कि पंजाब सरकार और उनकी पुलिस के चलते पीएम की सुरक्षा में बड़ी चूक हुई है। जिसके कारण प्रधानमंत्री का क़ाफिला क़रीब 15-20 मिनट तक एक फ्लाईओवर पर रुका रहा। वहीं अब इसको लेकर राजनीति भी गर्मा गई है। इसको लेकर बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

यह भी पढ़ें- मोदी की रैलियां हुई रद्द, आज पंजाब के फिरोजपुर में नहीं करेंगे रैली

पीएम फंस रहे और सीएम चन्नी ने फ़ोन भी नहीं उठाया

जेपी नड्डा ने पंजाब सरकार पर हमला करते हुए कहा कि चन्नी सरकार ने प्रधानमंत्री के कार्यक्रम को रद्द करने का हथकंडा अपनाया है। नड्डा ने इतना तक दावा किया है कि जब पीएम का क़ाफिला फंसा था तो मुख्यमंत्री चन्नी ने फ़ोन पर बात करने और मुद्दे को सुलझाने से इनकार कर दिया। उन्होंने यह भी नहीं सोचा कि पीएम मोदी को भगत सिंह और अन्य शहीदों को श्रद्धांजलि देनी है और विकास कार्यों की आधारशिला रखनी है।

पंजाब सरकार और पुलिस से माँगी रिपोर्ट

वहीं पंजाब में प्रधानमंत्री की सुरक्षा में हुई बड़ी चूक को लेकर केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इसका कड़ा संज्ञान लिया है और पंजाब सरकार से विस्तृत रिपोर्ट तलब की गई है। साथ प्रदेश पुलिस से भी इसको लेकर रिपोर्ट माँगी गई है। गृह मंत्रालय ने का कहना है कि पीएम की सुरक्षा के लिए सड़क से गुज़रते वक़्त अतिरिक्त सुरक्षा होनी चाहिए थी लेकिन यहां ऐसा कोई बंदोबस्त नहीं किया गया था। इसकी वजह से पीएम को वापस बठिंडा लौटना पड़ा।

पीएम ने कहा-चन्नी को धन्यवाद कहना मैं जिन्दा वापस लौट पाया

बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी क़रीब 20 मिनट तक एक फ्लाइओवर के पास खड़े रहे। आगे भीड़ रोड ब्लॉक करके खड़ी थी। एसपीजी ने सूझ-बूझ से काम किया और हालात को संभाला। बाद में पीएम को फिरोजपुर की रैली कैंसिल करनी पड़ी और वापस दिल्ली लौटना पड़ा। न्यूज़ एजेंसी एएनआई के मुताबिक़, मोदी जब बठिंडा एयरपोर्ट पर पहुंचे तो पंजाब सरकार के अधिकारियों से कहा कि अपने सीएम चन्नी को धन्यवाद कहना कि मैं जिन्दा वापस लौट पाया।

यह भी पढ़ें-मोदी की सुरक्षा में हुई चूक, फंसा रहा PM का काफिला, BJ का आरोप- कांग्रेस की साजिश

ये है पूरा मामला..ऐसे फंस गया पीएम का क़ाफिला

प्रधानमंत्री मोदी आज सुबह बठिंडा पहुंचे थे। वहाँ से उन्हें हेलिकॉप्टर से हुसैनीवाला स्थित राष्ट्रीय शहीद स्मारक जाना था। बारिश और ख़राब विजिबिलिटी के चलते पीएम ने क़रीब 20 मिनट तक मौसम साफ़ होने का इंतज़ार किया। जब मौसम ठीक नहीं हुआ तो तो तय किया गया कि पीएम सड़क मार्ग से राष्ट्रीय शहीद स्मारक का दौरा करेंगे। सड़क मार्ग से जाने में 2 घंटे से अधिक समय लगना था। हुसैनीवाला में राष्ट्रीय शहीद स्मारक से लगभग 30 किलोमीटर पहले, जब पीएम का क़ाफिला एक फ्लाईओवर पर पहुंचा, तो वहाँ कुछ प्रदर्शनकारियों ने सड़क पर जाम लगा रखा था। इस दौरान प्रधानमंत्री क़रीब 15 से 20 मिनट तक फ्लाईओवर में फंसे रहे।

यह भी पढ़ें-मोदी अफ़सरों से बोले- मैं एयरपोर्ट तक जिन्दा पहुंच पाया, इसके लिए अपने CM को थैंक्स कहना

कैप्टन अमरिंदर ने पंजाब में राष्ट्रपति शासन की मांग

वहीं पंजाब में भाजपा नेताओं ने चन्नी सरकार जमकर हमला बोला है। साथ ही कहा कि प्रधानमंत्री का कार्यक्रम रद्द होना कांग्रेस की साज़िश है। दूसरी तरफ़ पूर्व CM कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा ने कहा कि अगर पंजाब को सुरक्षित रखना है तो तुरंत राष्ट्रपति शासन लगा दिया जाना चाहिए। आप एक प्रधानमंत्री को सुरक्षा नहीं दे सकते तो फिर यह किस तरह का शासन है। वहीं प्रदेश के किसान संगठनों का कहना है कि पीएम की पंजाब में रैली रद्द होने की वजह किसानों का विरोध और पंजाबियों में मोदी की अस्वीकार्यता है।

Koo App
पंजाब में आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी की सुरक्षा से खिलवाड़ करने का काम चन्नी सरकार ने किया है। यह ओछी हरकत कांग्रेस के लोकतंत्र विरोधी चरित्र को दर्शाता है। मोदी जी के लोकप्रियता से डरी हुयी चन्नी सरकार अब प्रधानमंत्री जी के दौरे को बाधित करने पर उतर आयी है। अत्यंत निंदनीय है।
Rama Shankar Singh Patel (@rssinghpatelbjp) 5 Jan 2022

Leave a Comment