नवांशहर CIA स्टाफ़ पर हुआ था हैंड ग्रेनेड से आतंकी हमला, पाकिस्तानी आतंकी..

The News Air- नवांशहर के CIA ऑफ़िस पर आतंकियों ने हैंड ग्रेनेड अटैक किया था। जिसे पाकिस्तान बेस्ड आतंकी मॉड्यूल के ज़रिए अंजाम दिया गया। इसे हरविंदर सिंह उर्फ रिंदा चला रहा है। पंजाब पुलिस ने उसके 3 गुर्गों को गिरफ़्तार कर लिया है। नवांशहर सीआईए ऑफ़िस पर पिछले साल 7-8 नवंबर की रात को हैंड ग्रेनेड फेंका गया था। इसके ज़रिए वहाँ मौजूद पुलिस कर्मचारियों की हत्या की साज़िश थी। हालांकि वहाँ मौजूद पुलिस कर्मी हमले से बचने में कामयाब रहे। इस वारदात के लिए रिंदा और रमनदीप के बीच 4 लाख में सौदा हुआ था।
DGP वीके भवरा ने बताया पकड़े गए आतंकियों की पहचान मनीष कुमार उर्फ मनी उर्फ बाबा निवासी गांव बैंस ज़िला नवांशहर, रमनदीप सिंह उर्फ जक्खू निवासी गांव अट्‌टा गोरायां ज़िला जालंधर और प्रदीप सिंह उर्फ भट्‌टी निवासी साहलों निवासी एसबीएस नगर के रूप में हुई है। उनसे एक हैंड ग्रेनेड भी बरामद किया गया है।

लुधियाना-फिरोजपुर रोड से उठाए थे हैंड ग्रेनेड

DGP ने कहा कि पुलिस की पूछताछ में रमनदीप जक्खू ने क़बूला कि उसने ही मनीष मनी के साथ मिलकर नवांशहर सीआईए स्टाफ़ ऑफ़िस पर हैंड ग्रेनेड फेंका था। उन्होंने हरविंदर रिंदा के कहने पर इस वारदात को अंजाम दिया था। रमनदीप ने रिंदा की सूचना के बाद लुधियाना-फिरोजपुर रोड से 2 हैंड ग्रेनेड उठाए थे।

mostwanted final rinda 1650277525

रमनदीप जक्खू की निशानदेही पर बरामद हुआ दूसरा हैंड ग्रेनेड

एसबीएस नगर के एसएसपी संदीप कुमार ने बताया कि रमनदीप ने एक हैंड ग्रेनेड सीआईए ऑफ़िस पर फेंका जबकि दूसरा P-80 हैंड ग्रेनेड उनसे बरामद हुआ है। इसे रमनदीप की निशानदेही पर बरामद किया गया है। इसका इस्तेमाल कहां किया जाना था, इसके बारे में आरोपियों से पूछताछ की जा रही है।

पुलिस को कई केसों में वांटेड रिंदा

पुलिस के मुताबिक़ हरविंदर रिंदा एक हिस्ट्रीशीटर है। वह पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और महाराष्ट्र में कुख्यात गैंगस्टर रह चुका है। मर्डर, कॉन्ट्रैक्ट किलिंग, डकैती, फिरौती और स्नेचिंग के कई मामलों में वह पंजाब पुलिस का वांटेड है। पुलिस ने इस मामले में भी रिंदा को नामज़द किया है।

Leave a Comment