Pakistani Drones: बॉर्डर पर पकड़े गए ड्रोन की जांच में सामने आई भारत से जुड़ी कड़ी, ड्रग्स, हथियार की सप्लाई में..

Pakistani Drones: सीमा सुरक्षा बल (BSF) और पंजाब पुलिस (Punjab Police) ने जब्त किए गए ड्रोन (Drone) के तकनीकी विश्लेषण से राज्य में पाकिस्तान (Pakistan) के आतंकवादी ग्रुप की गहरी पैठ का पता चला है। ड्रोन के फ्लाइट पाथ के विश्लेषण से पता चलता है कि उन्हें भारत से पाकिस्तान भेजा गया था। वहां उसे हथियारों से लोड किया गया और फिर वापस भारत के लिए उड़ान भरी।

सरकार के सूत्रों ने News18.com को बताया कि जब्त किए गए ड्रोन का विश्लेषण करने वाली लैब ने पाया कि फ्लाइट पाथ पंजाब के लोकेशन से बनाया गया था। स्थानीय पुलिस ने विश्लेषण के दौरान सामने आए लोकेशन की डिटेल के आधार पर मामले दर्ज कर गिरफ्तारी भी की है।

कई मामलों में यह पाया गया कि ड्रोन अमृतसर और तरन तरन के गांवों से ऑपरेट किए गए थे।

News18.com ने सूत्रों के हवाले से बताया, “पिस्तौल, ड्रग्स और गोला-बारूद अपलोड होने के बाद, पाकिस्तान के अज्ञात व्यक्तियों ने ड्रोन ऑपरेट किया और उन्हें वापस भारत भेज दिया। इस बीच, BSF ने इस हरकत पर ध्यान दिया और स्थानीय पुलिस की मदद से ड्रोन को पकड़ लिया।”

सूत्रों ने बताया कि पिछले महीने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में हुई शीर्ष स्तरीय सुरक्षा बैठक में भी यह मामला उठाया गया था।

70 करोड़ रुपये की 10 किलो से ज्यादा हेरोइन जब्त

9 जनवरी को, BSF ने पंजाब के अमृतसर में पाकिस्तान से भारत में घुसने वाले एक ड्रोन को मार गिराया था। ड्रोन से करीब 70 करोड़ रुपये की 10 किलो से ज्यादा हेरोइन जब्त की गई थी। जांच के दौरान पंजाब पुलिस ने पाया कि ड्रोन भारत की ओर से आया था।

पंजाब पुलिस के एक वरिष्ठ अधिकारी ने News18.com को बताया, “ड्रोन पाथ का विश्लेषण किया गया और जांच से पता चला कि ड्रोन को सबसे पहले भारत से ऑपरेट किया गया था।”

अधिकारी ने कहा, “इसके बाद यह पाकिस्तान चला गया। इसलिए कोई स्पष्ट डेटा उपलब्ध नहीं था। 9 जनवरी को, 10 किलो से ज्यादा हेरोइन लोड करने के बाद, इसे भारत वापस भेज दिया गया था, लेकिन सीमा सुरक्षा बल की तरफ पकड़ लिया गया था।”

मार्च के पहले हफ्ते में इसी तरह की एक घटना में, BSF और पंजाब पुलिस ने एक जॉइंट ऑपरेशन में भारत-पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय सीमा पर एक खेत से एक ड्रोन बरामद किया था। जिस ड्रोन को मार गिराया गया। वह जनवरी और फरवरी में पकड़े गए दूसरे ड्रोन की तरह था।

जांच के दौरान, जब फ्लाइट पाथ का विश्लेषण किया गया, तो पता चला कि ड्रोन को भारत से पाकिस्तान भेजा गया था। गोला-बारूद और ड्रग्स के साथ वापस भेज दिया गया था। पंजाब पुलिस ने कथित तौर पर इस मामले में भी गिरफ्तारी की थी।

Leave a Comment