इस दिन दिल्ली, चंडीगढ़ में हाईकमान की पोल खोल कांग्रेस की टेंशन बढ़ाएंगे जाखड़

The News Air: पंजाब कांग्रेस के पूर्व प्रधान सुनील जाखड़ कांग्रेस पर अटैक की तैयारी में हैं। उनके ज़ुबानी हमले उस वक़्त होंगे, जब कांग्रेस उदयपुर में चिंतन शिविर कर रही होगी। जाखड़ के करीबियों के मुताबिक़ वह 13 से 15 के बीच प्रेस कान्फ्रेंस कर हाईकमान की पोल खोलेंगे। पहली कान्फ्रेंस उदयपुर, दूसरी दिल्ली और तीसरी चंडीगढ़ में होगी। इन्हीं 3 दिनों में कांग्रेस का भी चिंतन शिविर चलेगा।

बात करने की जगह नोटिस से आहत जाखड़

सुनील जाखड़ को हाल ही में कांग्रेस ने अनुशासनहीनता के आरोप में नोटिस भेजा था। जिसका जाखड़ ने जवाब नहीं दिया। जाखड़ को इस बात का ऐतराज़ था कि कांग्रेस हाईकमान को उनसे बात करनी चाहिए थी। इसकी जगह सीधे नोटिस भेजकर उनके आत्मसम्मान को ठेस पहुँचाई गई है। जाखड़ ने स्पष्ट कर दिया कि इसके ख़िलाफ़ वह सोनिया या राहुल गांधी से नहीं मिलेंगे। अब वह खुलकर अपनी बात रखेंगे।

सस्पेंड करने की हो चुकी सिफ़ारिश

कांग्रेस की अनुशासन समिति ने जाखड़ को 2 साल के लिए सस्पेंड करने की सिफ़ारिश की थी। इस पर सोनिया गांधी ने कोई फ़ैसला नहीं लिया है। हालांकि फ़िलहाल उन्हें पार्टी के सभी पदों से हटा दिया गया।

सिद्धू के लिए जाखड़ को हटाया, हिंदू होने की वजह से सीएम नहीं बनाया

कांग्रेस ने नवजोत सिद्धू को प्रधान बनाने के लिए सुनील जाखड़ को अचानक हटा दिया। फिर कैप्टन अमरिंदर सिंह को सीएम की कुर्सी से हटाया गया तो उन्हें सीएम बनाने की तैयारी थी। जाखड़ का दावा है कि उनके समर्थन में 42 विधायक भी थे। इसके बावज़ूद हिंदू होने की वजह से उन्हें सीएम नहीं बनाया गया। इसके बाद जाखड़ ने एक्टिव पॉलिटिक्स से दूरी बना रखी है।

Leave a Comment