Ola ने डिलीवर किए 4,000 इलेक्ट्रिक स्कूटर्स, FADA ने कहा, कुल 111 यूनिट्स का रजिस्ट्रेशन

Ola S1 और S1 Pro इलेक्ट्रिक स्कूटर (Electric scooters in India) को 15 अगस्त को लॉन्च किया गया था। लॉन्च के बाद कंपनी ने दावा किया था कि दोनों इलेक्ट्रिक स्कूटर्स को लोगों का जबरदस्त रिस्पॉन्स मिला और कुछ ही दिनों में ओला को 90,000 इलेक्ट्रिक स्कूटर्स के लिए बुकिंग मिली। इसके बाद, 15 दिसंबर से कंपनी ने इन स्कूटर्स के पहले बैच की डिलिवरी शुरू की। हालांकि, रविवार को फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन (FADA) के अध्यक्ष विंकेश गुलाटी ने ट्विटर के जरिए जानकारी दी कि 30 दिसंबर तक Ola ने 111 इलेक्ट्रिक स्कूटर वितरित किए। यह डेटा केंद्र के वाहन पोर्टल का है। गुलाटी के ट्वीट से पहले तक, कंपनी ने डिलीवरी का कोई सटीक डेटा शेयर नहीं किया था, लेकिन बाद में कंपनी ने अपनी ओर से एक बयान भी जारी किया।FADA अध्यक्ष गुलाटी ने ट्विटर पर जो डेटा साझा किया था, उसके अनुसार Ola Electric ने ज्यादातर स्कूटर कर्नाटक और तमिलनाडु में डिलीवर किए गए हैं। आंकड़े बताते हैं कि डिलीवर किए गए 111 इलेक्ट्रिक स्कूटर्स में से 60 कर्नाटक, 25 तमिलनाडु, 15 महाराष्ट्र और 11 राजस्थान में रजिस्टर हुए हैं।

पिछले हफ्ते शुक्रवार को, Ola Electric के सह-संस्थापक और सीईओ भाविश अग्रवाल (Bhavish Aggarwal) ने कहा था कि कंपनी ने S1 और S1 Pro इलेक्ट्रिक स्कूटर के पहले बैच की सभी यूनिट्स को शिप कर दिया है। उन्होंने आगे बताया कि [उस समय] इनमें से कुछ ट्रांजिट में हैं, और ज्यादातर पहले से ही डिलीवरी सेंटर्स पर RTO रजिस्ट्रेशन के प्रोसेस से गुजर रहे हैं। उन्होंने रजिस्ट्रेशन प्रोसेस में उम्मीद से ज्यादा समय लगने की बात भी कही और इसके पीछे का कारण पूरी तरह से डिजिटल प्रोसेस बताया। अग्रवाल ने यह भी आश्वासन दिया कि भविष्य में रजिस्ट्रेशन प्रोसेस तेज़ होगा।

गुलाटी ने भी अपने ट्वीट में RTO प्रोसेस की बात कही, लेकिन साथ ही यह आशंका भी जताई कि बुकिंग और डिलीवरी के बीच ये अंतर मार्केटिंग स्टंट हो सकता है। उन्होंने लिखा “क्या डायरेक्ट टू कस्टमर कांसेप्ट बड़ी बाधा बन रहा है? क्या यह वास्तविक है या सिर्फ एक और मीडिया/स्टार्टअप हाइप है?”

HT Auto को दिए एक स्टेटमेंट में Ola Electric के मुख्य व्यवसाय अधिकारी अरुण सिरदेशमुख (Arun Sirdeshmukh) ने कहा (अनुवादित) “हमने दिसंबर में लगभग 4,000 स्कूटरों को ग्राहकों की डिलीवरी के लिए भेज दिया है।”

Leave a Comment