पंजाब में AS एंड कंपनी के 80 शराब ठेके सील, NCB ने दी…

लुधियाना (The News Air) नशा तस्करों के खिलाफ चलाई गई मुहिम के चलते नेशनल नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो की टीम ने आज पंजाब में AS एंड कंपनी के करीब 80 शराब के ठेके सील कर दिए है। इस कंपनी का ड्रग पेडलिंग के सरगना अक्ष्य छाबड़ा के कारोबार के साथ 25 फीसदी शेयर था। बताया जा रहा है कि अक्ष्य छाबड़ा नशा तस्करी से कमाई रकम शराब के कारोबार में लगा रहा है।

आज तड़के चंडीगढ़ से लुधियाना पहुंची NCB की टीम ने इस ग्रुप के ठेके सील कर दिए है। अक्ष्य छाबड़ा को पुलिस ने जैपुर इंटरनेशल एयरपोर्ट से फरार होते समय गिरफ्तार किया था। अक्ष्य छाबड़ा और उसके साथी संदीप सिंह जनता नगर के रहने वाले है। अक्ष्य छाबड़ा एक बड़े शराब कारोबार का बेटा है।

तालों पर लगाई गई सील।

ड्रग तस्कर अक्ष्य छाबड़ा के घर के साथ-साथ उसने कई प्लॉट भी खरीदे थे। खाली समय बिताने के लिए आरोपी ने एक बड़ा फार्महाउस बनाया है। ड्रग के पैसे से, छाबड़ा ने कथित तौर पर कई लग्जरी गाड़ियां भी खरीदीं हुई है। इसी के साथ फोर्टिस ग्रुप, गिल ग्रुप और ढोलेवाल ग्रुप जिला लुधियाना में आरोपी का 100 फीसदी होल्ड अक्ष्य का है।

संदीप ने उगला था अक्ष्य का नाम

लुधियाना में 15 नवंबर 2022 को NCB (नेशनल नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो) को गुप्त सूचना मिली थी कि संदीप सिंह उर्फ दीपू बड़े स्तर पर हेरोइन की तस्करी करता है। आरोपी को रेड करके टीम ने जगदीश नगर फ्लाईओवर से 20.326 किलो हेरोइन सहित गिरफ्तार किया था।

आरोपी से टीम को नशीले पाऊडर सहित विदेशी ड्रग मनी व अन्य सामान मिला था। संदीप ने पूछताछ में शराब कारोबारी अक्ष्य छाबड़ा का नाम उगला था। अक्ष्य छाबड़ा और उसका साथी गौरव गोरा उर्फ अजय दोनों को टीम ने जैपुर एयरपोर्ट से 24 नवंबर 2022 को गिरफ्तार कर लिया था।

दोनों आरोपी शारजहां भागने की तैयारी में थे। आरोपियों ने तीन प्राइमी रुट्स के तहत 1400 किलो हेरोइन सप्लाई करनी थी। जिसमें मुद्रा पोर्ट गुजारा, ICP अटारी पंजाब और 250 किलो हेरोइन जम्मू कश्मीर भेजनी थी। इस कार्रवाई के बाद अन्य शराब कारोबारियों में भी हड़कंप मच गया है।

Leave a Comment