मेरी बेटी ने रामूवालिया ख़ानदान, पंजाब और सिक्खों के साथ गद्दारी की है

चंडीगढ़, 2 अगस्त (The News Air)
पूर्व केंद्रीय मंत्री, उत्तर प्रदेश के पूर्वमंत्री और लोग भलाई पार्टी के पूर्व प्रधान बलवंत सिंह रामूवालिया ने उनकी बेटी अमनजोत कौर रामूवालिया द्वारा सोमवार को भाजपा में शामिल हो जाने पर सख़्त टिप्पणी करते कहा है कि अमनजोत ने रामूवालिया ख़ानदान, पंजाब और सिक्खों के साथ गद्दारी की है।
रामूवालिया ने कहा कि अमनजोत रामूवालिया की ओर से उठाए गए इस क़दम की न तो उनकी कोई सहमति है और न ही मंजूरी। उन्होंने कहा कि वह तो अपने गांव रामूवालीए बैठे हैं जब उनको यह पता लगता है कि अमनजोत कौर भाजपा में शामिल हो गई है। बलवंत सिंह रामूवालिया ने दुखी और भरे मन से कहा कि अमनजोत ने अपने दादा अपने नाना की विचारधारा के उलट जाते हुए जो कार्यवाही की है, वह उसको शुरू से रद्द करते हैं। उन्होंने कहा कि यह अमनजोत का अपना फ़ैसला है और वह ही इसके लिए ज़िम्मेदार है।
बलवंत सिंह रामूवालिया ने स्पष्ट शब्दों में इस फ़ैसले से अपने आप को ‘नाराज़ और निराश’ बताते कहा कि अमनजोत की अपनी हस्ती क्या है। उन्होंने कहा कि उसका तो नाम ही स्कूल समय से अमनजोत कौर गिल रहा है और राजनीति में आ कर वह रामूवालिया हो गई।
बलवंत सिंह रामूवालिया ने आज शामिल हुए अन्य नेताओं के बारे में भी बात करते कहा कि अमनजोत कौर के साथ शामिल होने वाले बाकी नेता तो वह हैं जिन को तीसरे गांव व कईयों को तो अपने गांव में भी कोई नहीं जानता।

Leave a Comment