राम रहीम को मिलने से राजनीति विंग के मेंबर को रोका, पार्क में बैठकर की मीटिंग

The News Air- गुरु ग्राम में नाम चर्चा घर में डेरा प्रमुख राम रहीम से मिलने के लिए शुक्रवार को क़रीब ढाई बजे डेरे की राजनीति विंग के सात-आठ पदाधिकारी पहुंचे। इन्हें बाहर गेट पर तैनात पुलिस कर्मचारियों ने मिलने नहीं दिया। ऐसे में राजनीति विंग के पदाधिकारियों ने 300 मीटर दूर एक पार्क में मीटिंग की। डेरा प्रमुख से मिलने वाले राजनीति विंग के पदाधिकारियों की भाजपा नेताओं के साथ नज़दीकियाँ है। इसलिए इस मुलाक़ात को पंजाब चुनावों से जोड़ा जा रहा है।

डेरा पदाधिकारियों को दिलाई क़सम

नाम चर्चा घर से डेरा प्रमुख के संबंध में ख़बरें बाहर ना जाए, इसलिए डेरे के पदाधिकारियों ने अंदर काम करने वाले सेवादारों को क़सम दिलाई। पदाधिकारियों ने कहा कि डेरा प्रमुख के बारे में सूचनाएं लीक हो रही हैं। आगे से कोई सूचना बाहर नहीं देगा, इसलिए उनका नाम लेकर क़सम खाएं।

बता दे कि डेरा प्रमुख गुरु ग्राम में नाम चर्चा में फरलो पर रह रहे हैं, परंतु वे परिवार और न ही डेरा पदाधिकारियों से मुलाक़ात कर रहे हैं। गुरुवार को भी वे अपने तीसरी मंज़िल पर ही रहे। नीचे नहीं आए। नाम चर्चा घर में ग्राउंड फ्लोर पर सेवादार, प्रथम मंज़िल पर परिवार और दूसरे मंज़िल पर सिक्योरिटी गार्ड और तीसरी मंज़िल पर डेरा प्रमुख रह रहे हैं।

21 दिन की मिली है फरलो

डेरा सच्चा सौदा प्रमुख साध्वी यौन शोषण मामले और पत्रकार छत्रपति हत्याकांड व रणजीत हत्याकांड में सज़ा काट रहा है। 2017 से डेरा प्रमुख जेल में ही बंद है। हालांकि इस बीच उन्हें एक बार अपनी बीमार मां से मिलने के लिए 12 घंटे की पैरोल मिली। जबकि उसने पहले तीन बार पैरोल के लिए आवेदन किया था, परंतु सिरसा प्रशासन ने आवेदन रद्द कर दिया था। अबकी बार पांच राज्यों के चुनाव से पहले डेरा प्रमुख को 21 दिन की फरलो मिली है।

Leave a Comment