हरीश रावत की छुट्टी की तैयारी, हटाने का मुख्य कारण जानें..

चंडीगढ़, 2 अक्टूबर (The News Air)

पंजाब सियासी पारा चढ़ रहा है. विधानसभा चुनाव से पहले हंगामा जारी है. अब खबर सामने आई है कि कांग्रेस आलाकमान ने उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को प्रदेश प्रभारी पद से बर्खास्त करने की तैयारी कर ली है. उन्हें जल्द ही हटाया जा सकता है। उनकी जगह हरीश चौधरी को प्रदेश का प्रभारी बनाया जा सकता है.

रावत को हटाने का ये है मुख्य कारण
रावत को हटाने का सबसे बड़ा कारण यह है कि वह पंजाब कांग्रेस के झगड़े को ठीक से नहीं संभाल पाए। वहीं उनके बार-बार विवादित बयानों के चलते पार्टी में सुलह की वजहें बढ़ गईं. राज्य के कई वरिष्ठ नेताओं ने उनका विरोध करना शुरू कर दिया. इसे देखते हुए बताया जा रहा है कि आलाकमान रावत को हटाने का फैसला कर सकता है।

सिद्धू को चुनावी चेहरा बताते ही विवादों में आए रावत
वहीं हरीश रावत एक और बयान के बाद विवादों में आ गए। जब अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद उन्होंने 2022 के विधानसभा चुनाव में सिद्धू को अपना चेहरा बताया था। रावत ने कहा था कि आलाकमान तय करेगा कि पंजाब में कांग्रेस का चेहरा कौन होगा। लेकिन मौजूदा हालात को देखते हुए लगता है कि चुनाव सिद्धू के नेतृत्व में ही लड़ा जाएगा.

रावत के बयान से भड़के सुनील जाखड़
इतना ही नहीं रावत के इस बयान के बाद पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष सुनील जाखड़ भी भड़क गए थे और उन्होंने दिल्ली का रुख किया था. उन्होंने सोशल मीडिया पर अपनी नाराजगी जाहिर की थी। इसके बाद से ही रावत पर पंजाब के तमाम नेता निशाने पर हैं। अब इसे देखकर लग रहा है कि उन्हें जल्द ही प्रदेश प्रभारी पद से हटाया जा सकता है.

कौन हैं नए प्रभारी हरीश चौधरी?
बता दें कि हरीश चौधरी अब राजस्थान सरकार में मंत्री हैं, वह पंजाब कांग्रेस के सह प्रभारी रह चुके हैं. चौधरी पिछले कई दिनों से कांग्रेस विवाद को सुलझाने की कोशिश कर रहे हैं. कहा जाता है कि उनकी गिनती राहुल गांधी के सबसे करीबी नेताओं में होती है।

Leave a Comment