यह बने चंडीगढ़ NSUI के नए प्रेसिडें, MC काउंसलर भी हैं; पंजाब यूनिवर्सिटी स्टूडेंट इलेक्शन में हार के बाद..

चंडीगढ़ (The News Air) ऑल इंडिया कांग्रेस कमेटी(AICC) के जनरल सेक्रेटरी केसी वेणुगोपाल ने कांग्रेस प्रेजिडेंट मल्लिकार्जुन खड़गे की मंजूरी के बाद सचिन गालव शर्मा को चंडीगढ़ NSUI का प्रेसिडेंट नियुक्ति किया है। तत्काल प्रभाव से यह चार्ज दिया गया है। बता दें कि पंजाब यूनिवर्सिटी कैंपस स्टूडेंट्स काउंसिल(PUCSC) चुनावों में कांग्रेस को हार का मुंह देखना पड़ा था।

स्टूडेंट्स इलेक्शन में पहली बार खड़ी हुई आम आदमी पार्टी(AAP) का प्रेसिडेंट बना था। इसके बाद चंडीगढ़ NSUI में व्यापक स्तर पर बदलाव शुरू हुआ है। ऐसे में सचिन गालव को NSUI प्रेसिडेंट बनाया गया है। वहीं जल्द ही नए पदाधिकारियों की भी नियुक्तियां की जाएंगी।

अपना 200 प्रतिशत दूंगा: गालव

गालव ने कहा कि MC काउंसलर के रूप में पब्लिक से जुड़े मुद्दों पर वह अपना 100 फीसदी प्रयास कर रहे हैं। अब इस नियुक्ति के बाद वह अपना 200 प्रतिशत प्रयास करेंगे। वहीं कहा कि अब वह NSUI को चंडीगढ़ के प्रत्येक कॉलेज और पंजाब यूनिवर्सिटी में मजबूत करेंगे। वहीं NSUI चंडीगढ़ चंडीगढ़ के सभी 35 वार्ड में नई यूनिट्स खोलेगा। इसके अलावा स्टूडेंट्स की दिक्कतों को भी पूरी तरह दूर करने का प्रयास किया जाएगा।

हाउस में भी मुद्दों को उठाते हैं

बता दें कि सचिन गालव को स्टूडेंट्स के मुद्दों की जानकारी है और ऐसे कई मुद्दों पर उनकी अगुआई में यूनिवर्सिटी में रोष-प्रदर्शन भी हो चुके हैं। वह पिछले करीब 10 सालों से स्टूडेंट राजनीति से जुड़े हुए हैं। वहीं चंडीगढ़ म्यूनिसिपल कॉर्पोरेशन में भी वह कांग्रेसी काउंसलर के रूप में मुद्दों पर जोरदार तरीके से पक्ष रखते हैं।

दो पदों पर जीता था चुनाव

पिछले वर्ष अक्तूबर में स्टूडेंट इलेक्शन में प्रेसिडेंट और सेक्रेटरी पोस्ट हारने के बाद NSUI की चंडीगढ़ इकाई को भंग कर दिया गया था। NSUI के नेशनल सेक्रेटरी हुसैन सुलतानिया ने यह आदेश जारी किए थे। NSUI ने वाइस प्रेसिडेंट और जॉइंट सेक्रेटरी की पोस्ट पर चुनाव जीता था। हालांकि प्रेसिडेंट AAP की स्टूडेंट पार्टी छात्र युवा संघर्ष समिति(CYSS) के आयुष खटकड़ बने थे।

इन पर हो चुकी कार्रवाई

यूनिवर्सिटी के स्टूडेंट इलेक्शन में हार के बाद अक्तूबर में NSUI की डिसिप्लिनरी कमेटी ने 8 स्टूडेंट लीडर पर कार्रवाई भी की थी। स्टेट प्रेसिडेंट रॉबी सिद्धू को 4 वर्ष तक NSUI ने बाहर कर दिया गया। पंजाब यूनिवर्सिटी स्टूडेंट काउंसिल(PUSC) के पूर्व प्रेसिडेंट जश्न कंबोज, पूर्व वाइस प्रेसिडेंट राहुल कुमार, पूर्व जॉइंट सेक्रेटरी मनप्रीत माहल, पूर्व पार्टी चेयरमैन राज करन, पूर्व कैंपस प्रेसिडेंट सतिंदर सिंह खैरा, पूर्व कैंपस प्रेसिडेंट आशीष पाल, पार्टी चेयरमैन करनबीर सिंह धारीवाल, वाइस चेयरमैन हर्षित सिंघल पर भी कार्रवाई करते हुए 4 वर्ष के लिए पार्टी की मेंबरशिप और कार्यों से बाहर किया गया था।

यह रहा था चुनावी नतीजा

PU स्टूडेंट चुनावों में CYSS के आयुष खटकड़ 2712 वोट मिले थे और वह प्रेसिडेंट पोस्ट जीते थे। वहीं NSUI के गुरविंदर सिंह को 1582 वोट मिले थे। वाइस प्रेसिडेंट NSUI के हर्षदीप सिंह बाथ बने थे। उन्हें 3514 वोट हासिल हुई थी। सेक्रेटरी पोस्ट पर INSO के परवेश बिश्नोई को जीत मिली थी। उन्हें 4275 वोट मिली थी। वहीं इस पोस्ट पर NSUI के सागर बाबा को 3131 वोट मिले थे। जॉइंट​​​​​ सेक्रेटरी की पोस्ट पर NSUI के मनीष बूरा ने जीत हासिल की। उन्हें 3151 वोट हासिल हुई थी।

Leave a Comment