जिन्होंने कोरोना के कारण अपने प्रियजनों को खो दिया, जम्मू-कश्मीर सरकार उनकी करेगी हर संभव मदद

श्रीनगर, 11 मई

कोरोना की दूसरी लहर ने पूरे देश में कोहराम मचा दिया है। संक्रमण को रोकने के लिए लगभग सभी राज्‍य लॉकडाउन में जा चुके हैं। ऐसा ही हाल जम्‍मू कश्‍मीर का है। लेकिन यहां की उपराज्‍यपाल की तरफ से ऐसी व्‍यवस्‍था की जा रही है ताकि लोगों को किसी तरह की समस्‍या ना हो। उपराज्‍यपाल ने सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया है कि वे सभी राशन कार्ड धारकों को राशन की आपूर्ति प्राथमिकता पर सुनिश्चित करें। इन चुनौतीपूर्ण समय में, ओल्ड-एज होम्स, अनाथालयों को राशन सहित सरकार से सभी सहायता दी जाए।

इसके अलावा जम्‍मू कश्‍मीर उपराज्‍यपाल की तरफ से कहा गया है कि जिन्होंने दुर्भाग्य से अपने प्रियजनों को कोरोना में खो दिया, जम्मू-कश्मीर सरकार ने उन लोगों की मदद करने के लिए कई उपाय किए हैं। परिवार के केवल कमाने वाले सदस्य को खोने वाले वरिष्ठ नागरिकों को विशेष पेंशन प्रदान की जाएगी। इतना ही नहीं कोरोना महामारी के चलते जिन बच्‍चों ने अपने माता-पिता को खो दिया है, उन्हें सरकार द्वारा विशेष छात्रवृत्ति प्रदान की जाएगी। सरकार ने अगले दो महीनों के लिए सभी पंजीकृत निर्माण श्रमिकों, पोनवाल, पालकीवाल, पिथुवाल को 1000 रुपये प्रति माह देने का फैसला किया है।

इसके साथ ही सामाजिक कल्‍याण योजनाओं वृद्धावस्था पेंशन, लाडली बेटी, प्रधानमंत्री आवास योजना, मनरेगा और अन्य कल्याणकारी योजनाओं की किश्त तुरंत जारी की जाएगी। उपराज्‍यपाल की तरफ से जारी बयान में कहा गया है कि सरकार की सबसे बड़ी प्राथमिकता महामारी को हराना है। इसलिए सभी से आग्रह है कि कोरोना गाइडलाइन का पालन करें और टीका लगवाएं।


Leave a Comment