Google की Fitbit Ionic स्मार्टवॉच को ओवरहीटिंग के कारण किया गया रिकॉल!

Fitbit Ionic स्मार्टवॉच को ओवरहीटिंग की समस्या के कारण रिकॉल किया गया है। Google के स्वामित्व वाली इस कंपनी की स्मार्टवॉच में हीटिंग की समस्या के चलते जलने की संभावना थी। स्मार्टवॉच रिकॉल का फैसला ओवरहीटिंग के कारण 100 से ज्यादा जलने की चोट लगने की घटनाओं के सामने आने के बाद लिया गया। Fitbit Ionic को 2017 में लॉन्च किया गया था। यह एक्टिविटी ट्रैकिंग फीचर्स जैसे हार्ट रेट और स्लीप मॉनिटरिंग से लैस है। दिसंबर 2021 तक अमेरिका में स्मार्टवॉच की 10 लाख के लगभग यूनिट्स बेची जा चुकी थीं। जिनमें से 6 लाख 93 हजार ग्लोबल मार्केट में बेची गई थीं जिनमें भारत भी शामिल है।अमेरिकी कन्ज्यूमर प्रोडक्ट सेफ्टी कमिशन की घोषणा में ये भी कहा गया है कि रिकॉलिंग की वजह से Fitbit स्मार्टवॉच मालिक को 299 डॉलर (लगभग 22,700 रुपये) रिफंड करेगी। इसके अलावा यह कुछ चुनिंदा फिटबिट डिवाइसेज पर 40 प्रतिशत तक का डिस्काउंट भी ग्राहकों को ऑफर करेगी।

US कमिशन ने कहा, फिटबिट को ओवरहीटिंग की 174 रिपोर्ट मिलीं। इनमें से 118 रिपोर्ट जलने वाली चोट की थीं जिनमें दो केस थर्ड डिग्री बर्न के थे और चार केस सेकेंड डिग्री बर्न के थे।

Gadgets 360 को ईमेल के जरिए दिए गए एक बयान में Fitbit ने कहा, “अमेरिकी रेगुलेटर की घोषणा में कुल बेची गईं Fitbit Ionic यूनिट्स के 0.01 प्रतिशत का जिक्र किया गया है। जिनकी बैटरी में ओवरहीटिंग की समस्या थी।”

कंपनी ने कहा कि स्मार्टवॉच रिकॉलिंग का असर फिटबिट के दूसरे स्मार्टवॉच या ट्रैकर्स पर नहीं पड़ेगा। 2020 में Fitbit ने Ionic का प्रोडक्शन बंद कर दिया था। स्मार्टवॉच को जनवरी 2018 में 22,990 रुपये की कीमत में लॉन्च किया गया था।

Gadgets 360 ने Fitbit से कन्फर्म किया कि भारतीय ग्राहक रिफंड कैसे प्राप्त कर सकते हैं। कंपनी ने जवाब में कहा कि अमेरिका के बाहर के प्रभावित ग्राहक help.fitbit.com/ionic पर विजिट करके अधिक जानकारी ले सकते हैं और रिफंड प्राप्त करने का तरीका जान सकते हैं।

स्मार्टवॉच के सीमित चार वेरिएंट्स को ही रिकॉल किया गया है जिनके मॉडल नम्बर FB503CPBU, FB503GYBK, FB503WTGY, और FB503WTNV हैं।

अमेरिका में रिफंड के प्रात्र ग्राहक Fitbit helpline 888-925-1764 पर कॉल करके अथवा कंपनी की वेबसाइट के हेल्प सेक्शन पर जाकर रिफंड के लिए प्रक्रिया शुरू कर सकते हैं। फिटबिट कम्यूनिटी फोरम से पता चलता है कि 2017 में लॉन्च के बाद से ही आयोनिक वॉच में ओवरहीटिंग की समस्या आनी शुरू हो गई थी। फोरम पोस्ट में ओवरहीटिंग समस्या से प्रभावित एक यूजर ने लिखा, “आज मेरी Fitbit Ionic ने मेरी कलाई को जला दिया। मैंने महसूस किया कि जैसे मेरी कलाई पर कुछ चुभ रहा था।”

Leave a Comment