गूगल ने अफ़ग़ान सरकार के ईमेल अकाउंट्स को अस्थायी रूप से किया बंद, जानें वजह

नई दिल्ली, 4 सितंबर (The News Air)
गूगल ने अफ़ग़ान सरकार के ईमेल अकाउंट्स को अस्थायी रूप से बंद कर दिया है। इस मामले से परिचित एक व्यक्ति ने इसकी जानकारी दी। गूगल ने अफ़ग़ानिस्तान सरकार के कुछ ईमेल अकाउंट्स को अस्थाई तौर पर बंद कर दिया है। बताया जा रहा है कि गूगल ने यह क़दम अफ़ग़ानिस्तान पर तालिबान के कब्ज़े के बाद पिछले अधिकारियों और अंतरराष्ट्रीय साझेदारों द्वारा छोड़े गए दस्तावेज़ों के लीक होने के डर से उठाया है। तालिबान पूर्व अधिकारियों के ईमेल तक पहुंचने का प्रयास कर रहा था।
गूगल के प्रवक्ता ने एक बयान में कहा कि विशेषज्ञों के परामर्श से हम अफ़ग़ानिस्तान की स्थिति का लगातार आकलन कर रहे हैं और प्रासंगिक अकाउंट्स को सुरक्षित करने के लिए अस्थायी कार्रवाई की है, क्योंकि जानकारी लगातार आ रही है।
मामले से परिचित एक अधिकारी ने रॉयटर्स को बताया कि अकाउंट्स को पूरी तरह से बंद कर दिया गया था, क्योंकि जानकारी का इस्तेमाल पूर्व सरकारी अधिकारियों को ट्रैक करने के लिए किया जा सकता है जिससे समूह को नुक्सान होगा।
पूर्व सरकार में शामिल एक सीनियर कर्मचारी ने एजेंसी को बताया कि तालिबान पूर्व अधिकारियों के ईमेल हासिल करने की कोशिश कर रहा है। अगस्त के आख़िर में कर्मचारी ने बताया था कि तालिबान ने उससे उस मंत्रालय के सर्वर पर रखे डेटा को संरक्षित रखने के लिए कहा था, जहां वह काम करता था।
कर्मचारी ने कहा कि अगर वह ऐसा करता है, तो तालिबान की पिछले मंत्रालय के नेतृत्व के डेटा और आधिकारिक संचार की जानकारी मिल जाएगी। कर्मचारी ने आगे बताया कि उसने तालिबान की बात नहीं मानी और तब से ही छिप गया। वहीं, रॉयटर्स ने सुरक्षा कारणों के चलते कर्मचारी की पहचान और उसके मंत्रालय के बारे में जानकारी नहीं दी।

Leave a Comment