प्रशांत किशोर पर अंतिम फ़ैसला होने की उम्मीद, कमेटी ने सोनिया को सौंपी रिपोर्ट, दिया सुझाव..

The News Air: चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर के कांग्रेस में शामिल होने को लेकर लगातार अटकलें चल रही हैं। इन पर आज विराम लग सकता है। सोनिया गांधी ने प्रशांत की प्रेजेंटेशन और उनके पार्टी में शामिल होने पर विचार करने के लिए कांग्रेस नेताओं की समिति का गठन किया था। इस कमेटी ने पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी को अपनी रिपोर्ट सौंप दी है। प्रशांत पर फ़ैसला लेने के लिए आज 10 जनपथ पर बैठक होगी।
कमेटी के सदस्य केसी वेणुगोपाल, दिग्विजय सिंह, अंबिका सोनी, रणदीप सुरजेवाला, जयराम रमेश और प्रियंका गांधी वाड्रा 10 जनपथ पहुंच गए हैं।

सोनिया के साथ 3 बैठकें कर चुके PK

चुनावी रणनीतिकार प्रशांत की कांग्रेस आलाकमान के साथ 3 बैठकें हो चुकी हैं। इस दौरान उन्होंने कांग्रेस की लोकसभा और विधानसभा चुनावों में हुई हार पर मंथन किया था। इतना ही नहीं PK ने कांग्रेस को 600 पेज प्रेजेंटेशन भी दी थी, जिसमें यह बताया गया था कि पार्टी को सत्ता में वापसी के लिए लिए क्या करना होगा।
हालांकि कांग्रेस के कई दिग्गजों ने प्रशांत से किनारा कर रखा है, क्योंकि कई अन्य पार्टियों के साथ उनका कनेक्शन है जो कांग्रेस के प्रतिद्वंद्वी हैं।

कमेटी की मांग बाक़ी सबसे दूर हो जाएं PK

सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक़ सोनिया गांधी ने ही प्रशांत किशोर के प्रस्ताव की जांच करने के लिए स्पेशल टीम बनाई थी। अब उनकी यही टीम चाहती है कि प्रशांत बाक़ी सभी राजनीतिक दलों से दूरी बना लें और पूरी तरह कांग्रेस के लिए समर्पित हो जाएं। गौरतलब है कि प्रशांत किशोर ने सुझाव दिया था कि कांग्रेस, ममता बनर्जी की TMC और केसीआर की TRS जैसी रीजनल पार्टीज से गठबंधन कर ले।
हालांकि तेलंगाना के प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रेवंत रेड्डी अक्सर केसीआर और उनके बेटे के टी रामाराव की आलोचना करते रहते हैं।

2 दिन से KCR के घर डेरा डाले हैं प्रशांत

उधर कांग्रेस में एंट्री की ख़बरों के बीच प्रशांत किशोर 2 दिन से तेलंगाना के मुख्यमंत्री केसीआर (KCR) के घर डेरा डाले हुए हैं। प्रशांत-केसीआर की इस मीटिंग से भी कांग्रेस में हड़कंप की स्थिति बन गई है। हाल ही में केसीआर ने घोषणा की थी कि अगले साल होने वाले तेलंगाना विधानसभा चुनाव और 2024 के आम चुनाव में प्रशांत किशोर उनकी मदद करेंगे।

Leave a Comment