क्रिप्‍टोकरेंसी टोकन ‘Peaceful World’ बन सकती है यूक्रेन की बड़ी ताकत! यह है तैयारी

रूस-यूक्रेन युद्ध के बीच यूक्रेन ‘Peaceful World’ (पीसफुल वर्ल्‍ड) नाम के क्रिप्‍टो टोकन को अपनाने के लिए कमर कस सकता है। ‘Peaceful World’ टोकन को Ethereum ब्‍लॉकचेन पर बनाया गया है। यह टोकन उन लोगों को प्रजेंट किया जा सकता है, जिन्होंने इस युद्धग्रस्त देश को क्रिप्‍टोकरेंसी के जरिए मदद की है। राजनीतिक और आर्थिक अस्थिरता के इस समय में यूक्रेन, बिटकॉइन (Bitcoin) और Ether के रूप में जुटाए जा रहे फंड का इस्‍तेमाल कर रहा है।Ethereum नेटवर्क एक्सप्लोरर ‘इथरस्कैन’ को पता चला है कि 7 अरब Peaceful World टोकन जिन्‍हें WORLD के रूप में भी जाना जाता है, उन्‍हें यूक्रेनी अधिकारियों द्वारा बनाए गए ऑफ‍िशियल क्रिप्टो डोनेशन वॉलेट में ट्रांसफर  किया गया है। डेटा बताता है कि यह ट्रांसफर 2 मार्च को किया गया था। इथरस्कैन के अनुसार, Peaceful World के अबतक 325 होल्‍डर और 859 ट्रांसफर की जानकारी है। यह संख्‍या लगातार बढ़ रही है।

ऐसा कहा जा रहा है कि यूक्रेन उन लोगों को रिवॉर्ड देने की योजना बना रहा है, जिन्‍होंने उसे क्रिप्‍टो फंड के रूप में मदद की है। माना जा रहा है कि Peaceful World टोकन ही वो रिवॉर्ड है। हालांकि यूक्रेन की ओर इस बारे में अभी कोई ऑफ‍िशियल जानकारी नहीं दी गई है।

कॉइनडेस्‍क की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि यूक्रेन के ऑफ‍िशियल क्रिप्टो डोनेशन वॉलेट ने लगभग एक मिलियन Peaceful World टोकन को एक वॉलेट में ट्रांसफर कर दिया है, जो उन्हें Uniswap पर एक लिक्विडिटी पूल को सीड करने के लिए इस्‍तेमाल करता है। Uniswap एक डीसेंट्रलाइज्‍ड एक्‍सचेंज है। यह यूजर्स को बिना किसी बिचौलिए के क्रिप्टोकरेंसी खरीदने और बेचने की सुविधा देता है।

हाल ही में यूक्रेन के उप-प्रधानमंत्री मायखाइलो फेडोरोव ने एक सुविधा देने के लिए Uniswap की तारीफ की थी, जिसने Ether के लिए अन्य क्रिप्टोकरेंसी को स्वैप करना और सीधे यूक्रेन को फंड दान करना आसान बना दिया। पिछले कुछ दिनों में यूक्रेन ने अपने नागरिकों और सैनिकों को सपोर्ट देने की अपील करते हुए क्रिप्टो डोनेशन के रूप में 35 मिलियन डॉलर (लगभग 265 करोड़ रुपये) से ज्‍यादा हासिल किए हैं।

एक ओर, जहां यूक्रेन क्रिप्‍टो को स्‍वीकार कर रहा है, वहीं रूस के लेकर ऐसी संभावना नहीं है। रूस में क्रिप्टो का जबरदस्त चलन है, लेकिन कुछ एक्सपर्ट्स का मानना है कि प्रतिबंधों से निपटने के लिए रूस द्वारा क्रिप्टोकरेंसी का इस्तेमाल करने का तर्क ‘बेबुनियाद’ है।

Leave a Comment