इस देश में टूटा कोरोना का रिकॉर्ड; राष्ट्रपति ने लोगों से कहा- काम पर न जाएं


मॉस्को, 21 अक्टूबर (The News Air)

रूस में कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामले लगातार सामने आ रहे हैं. इसे देखते हुए राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन (Vladimir Putin) ने बुधवार को एक नॉन वर्किंग वीक घोषित करने और रूसी वर्कर्स को उनके ऑफिस से दूर रखने के मंत्रिमंडल के प्रस्ताव का समर्थन किया. यह कदम ऐसे समय में उठाया गया है जब देश में कोविड-19 से दैनिक मौत के रिकॉर्ड मामले सामने आए हैं.

24 घंटे में 1028 मरीजों की मौत-रूसी स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों पर गौर करें तो बुधवार को पिछले 24 घंटों में कोविड-19 से 1,028 लोगों की जान चली गई, जो महामारी की शुरुआत के बाद से एक दिन में सबसे अधिक संख्या है. इससे रूस में महामारी से मरने वालों की कुल संख्या 226,353 हो गई जो कि यूरोप में अब तक का सबसे अधिक आंकड़ा है. इसी को देखते हुए सरकार के मंत्रिमंडल ने सुझाव दिया था कि महामारी को फैलने से रोकने के लिए एक सप्ताह तक अवकाश घोषित किया जा सकता है. पुतिन ने बुधवार को कहा कि वह 30 अक्टूबर से शुरू होने वाले नॉन वर्किंग वीक और इसे अगले सप्ताह तक विस्तारित करने के मंत्रिमंडल के प्रस्ताव का समर्थन करते हैं.

सिर्फ 32% आबादी ने लगवाई वैक्सीन-दरअसल, 30 अक्टूबर से शुरू होने वाले हफ्ते के अगले हफ्ते के 7 दिनों में से शुरुआती 4 दिन सरकारी छुट्टियां पड़ रही हैं. उन्होंने कहा कि कुछ क्षेत्रों में जहां स्थिति सबसे अधिक खतरनाक है, काम न करने की अवधि शनिवार से शुरू हो सकती है. अधिकतर हेल्थ वर्कर्स के कोविड-19 मरीजों के इलाज में व्यस्त होने के कारण कुछ क्षेत्रों में सामान्य स्वास्थ्य सहायता सुविधाएं स्थगित कर दी गई हैं. देश में कोविड रोधी टीकाकरण की रफ्तार भी उम्मीद से ज्यादा कम है. कुल 14.6 करोड़ की आबादी में से करीब 4.5 करोड़ (32 प्रतिशत) का ही पूर्ण टीकाकरण अब तक हुआ है.


Leave a Comment

error: Content is protected !!
Ads Blocker Image Powered by Code Help Pro
Ads Blocker Detected!!!

We have detected that you are using extensions to block ads. Please support us by disabling these ads blocker.

I Have Disabled The AdBlock Reload Now