प्रशांत किशोर की आवाज निकाल कर कांग्रेसी नेताओं से पैसे एंठने वाले ठग को किया काबू

चंडीगढ़, 8 मई

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के प्रधान सलाहकार प्रशांत किशोर की आवाज निकाल कर कांग्रेस के नेताओं को टिकट दिलवाने वाले ठगी के मुख्य आरोपी को पंजाब पुलिस ने अमृतसर से गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी की पहचान गौरव शर्मा उर्फ गोरा के रूप में हुई है। वह अमृतसर के मजीठा मार्ग पर स्थित 88 फुटा रोड का रहना वाला है।

आरोपी को अदालत में पेश करने के बाद चार दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया। इससे पहले उसके दो साथियों को सात दिन का पुलिस रिमांड दिया गया है। पूछताछ में ठगों ने बताया कि वह प्रशांत किशोर की आवाज में बात करते थे। इनके द्वारा कई लोगों से 5 करोड़ रुपए टिकट दिलाने के नाम पर वसूलने की बात सामने आई है।

एडीसीपी जसकिरनजीत सिंह तेजा ने बताया कि आरोपी पहले भी राजस्थान में एक नेता से दो करोड़ रुपए की ठगी कर चुका है। इस मामले में वह 40 दिन तक जेल में भी रहा जिसके बाद उसकी जमानत हो गई थी। आरोपी से राजस्थान पुलिस पैसे बरामद नहीं कर पाई है। पुलिस ने इससे पहले उसके दो साथियों को भी अमृतसर से ही गिरफ्तार किया था। इनमें राकेश कुमार उर्फ भसीन और रजत कुमार पीए उर्फ राजा उर्फ मदान शामिल है। गिरफ़्तार किए गए आरोपियों से एक राकेश कुमार राजस्थान के किसी एमएलए का पीए। बनकर लोगों के साथ बातचीत करता था और दूसरा आरोपी रजत कुमार ख़ुद एमएलए बनकर लोगों के साथ बातचीत करता था।
तीनों आरोपी प्रशांत किशोर के नाम पर कांग्रेस के कई नेताओं से ठगी कर रहे थे। पुलिस के मुताबिक पूछताछ करने के बाद इनसे बड़ा खुलासा होने की उम्मीद है। मुख्य आरोपी गौरव शर्मा उर्फ गोरा ठगी के पैसों से जुआ खेलता था। उसके तस्करों के साथ भी संबंध बताए जा रहे हैं। आरोपी पर पंजाब और राजस्थान में धोखाधड़ी व तस्करी के पांच मामले भी पहले से दर्ज हैं। पुलिस के मुताबिक तीनों अरोपी ज़्यादा पढ़े-लिखे नहीं हैं। इनमें एक चौथी, एक आठवीं और एक दसवीं पास है। बड़े-बड़े नेताओं के इनके झांसे में आसानी से फंसने को लेकर पुलिस भी हैरत में है।

Leave a Comment