पहली हवाई उड़ान पर ही घिरे पंजाब के CM चन्नी


चंडीगढ़, 21 सितंबर (The News Air)

पंजाब के नए CM चरणजीत सिंह चन्नी पद संभालने के बाद पहली हवाई उड़ान पर ही घिर गए। मंगलवार को वह कांग्रेस हाई कमान से मिलने दिल्ली पहुंचे। उससे पहले पंजाब कांग्रेस प्रधान नवजोत सिद्धू ने एक फोटो ट्वीट की। जिसमें सिद्धू मुख्यमंत्री चन्नी व डिप्टी सीएम सुखजिंदर रंधावा के साथ खड़े हैं। इसी फोटो में वह चार्टेड प्लेन के आगे खड़े हैं। इसी को आधार बना विरोधियों ने निशाने साधने शुरु कर दिए हैं। अकाली दल ने कहा कि कल तो चन्नी खुद को आम आदमी कह रहे थे। आज प्राइवेट जैट से दिल्ली जा रहे। 250 किलोमीटर तो वो कार से भी जा सकते थे।

सिद्धू की फोटो को री-ट्वीट करते हुए शिरोमणि अकाली दल (बादल) ने लिखा कि कांग्रेसी नेता कहते थे कि आम आदमी के साथ खड़े होंगे। अब उन्होंने चंडीगढ़ से दिल्ली जाने के लिए प्राइवेट जैट लिया है। क्या वहां जाने के लिए नॉर्मल फ्लाइट नहीं हैं? या कार यूज कर सकते थे। अकाली दल ने पूछा कि क्या यह गांधी परिवार के दिल्ली दरबार में सीना ठोकने के लिए प्रोपेगंडा किया जा रहा है।

अकाली दल का ट्वीट।

ऐसी कौन सी इमरजेंसी थी, जो प्राइवेट जेट इस्तेमाल किया: बराड़
अकाली नेता चरणजीत बराड़ ने कहा कि मुख्यमंत्री चाहे जो मर्जी ले जाएं, यह उनका अधिकार है। हम ये पूछ रहे हैं कि सरकारी हेलिकॉप्टर कहां है? उसका इस्तेमाल क्यों नहीं किया गया। कोई इमरजेंसी होती तो बात भी थी लेकिन यह तो सिर्फ दिल्ली यह पूछने गए हैं कि मंत्री किसे बनाना है?

अकाली दल ने 121 करोड़ खर्चे, सवाल पूछने का हक नहीं
कांग्रेसी नेता कुलदीप वैद ने कहा कि अकाली दल ने तो हवाई उड़ानों पर 121 करोड़ रुपए खर्च किए। यह ऑफिशियल आंकड़ा है। इसलिए उन्हें इस बारे में सवाल करने का कोई हक नहीं है।

AAP के हरपाल चीमा बोले : CM चन्नी ने 24 घंटे में यू-टर्न लिया
आम आदमी पार्टी के विपक्षी दल के नेता हरपाल चीमा ने कहा कि CM चन्नी तो समाज सुधार की बड़ी बातें कर रहे थे। उन्होंने 24 घंटे में ही उन बातों से यू-टर्न मार लिया। अपनी हाईकमान से मिलने के लिए उन्होंने प्राइवेट जैट का इस्तेमाल किया। इससे कांग्रेसियों की मंशा व कल्चर का पता चलता है। 2007 से 2017 तक अकाली दल व उसके बाद कैप्टन भी यही करते रहे। अब हाईकमान को खुश करने के लिए चन्नी भी यही कर रहे हैं। चीमा ने पूछा कि हरीश रावत किस अधिकार से पंजाब सरकार के सरकारी हेलिकॉप्टर का इस्तेमाल कर रहे हैं।


Leave a comment

Subscribe To Our Newsletter

Subscribe To Our Newsletter

Join our mailing list to receive the latest news and updates from our team.

You have Successfully Subscribed!