गुड़गांव में होली पर बच्चों ने ली मौत की सेल्फी

The News Air- गुड़गांव- होली पर मौज मस्ती कर जोहड़ पर चेन बनाकर सेल्फी ले रहे तीन दोस्तों को यह नहीं पता था कि यह उनकी एक साथ आखिरी सेल्फी है। पैर फिसलने से दो बच्चे जोहड़ में गिर गए, जिसमें से एक तो बच गया जबकि दूसरे की डूबने से मौत हो गई।

सूचना मिलते ही दमकल विभाग, पुलिस व सिविल डिफेंस की टीम गोताखोर के साथ मौके पर पहुंची और करीब डेढ़ घंटे की तलाश के बाद शव को बाहर निकाला।पुलिस के मुताबिक, गांव पलड़ा निवासी राहुल(17), ललित(17 ) व एक अन्य शुक्रवार सुबह से ही होली का जश्न मना रहे थे। तीनों मौज मस्ती करते हुए गांव के जोहड़ पर पहुंच गए। यहां तीनों चेन बनाकर जोहड़ के बाहर सेल्फी ले रहे थे। इस दौरान उनका पैर फिसल गया। इस घटना में राहुल व ललित जोहड़ में गिर गए। उन्हें बचाने के लिए तीसरा दोस्त भी कूदा जिसने ललित को तो बाहर निकाल लिया, लेकिन वह राहुल को नहीं पकड़ पाए।देखते ही देखते राहुल जोहड़ में डूब गया।

इसकी सूचना उन्होंने ग्रामीणों के जरिए पुलिस को दी। सूचना मिलते ही पुलिस, दमकल विभाग व सिविल डिफेंस की टीम के साथ मौके पर पहुंच गई। इस दौरान हरियाणा पुलिस के गोताखोर सेक्टर-10 ए थाने में तैनात हैड कांस्टेबल देवेंद्र मलिक को बुलवाया गया। सुबह करीब सवा 10 बजे हुई घटना के बाद मौके पर पहुंचे देवेंद्र मलिक व अन्य ने करीब डेढ़ घंटे तक जोहड़ में गहराई तक राहुल की तलाश की।डेढ़ घंटे बाद देवेंद्र को राहुल का शव जोहड़ में 25 फीट गहराई में मिला, जिसे उन्होंने बाहर निकाला।

बादशाहपुर थाना प्रभारी ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि जोहड के चारों ओर बॉउंड्री कर ग्रिल लगाई गई है। यहां जोहड़ की सफाई के लिए चारों ओर गेट लगाए गए हैं। इसी गेट के जरिए ही तीनों बच्चे जोहड़ के अंदर की तरफ आए थे और स्लोब पर चेन बनाकर लटके हुए थे और सेल्फी ले रहे थे। इसी दौरान पैर फिसलने के कारण वह जोहड़ में गिर गए और यह हादसा हो गया।

Leave a Comment