iPhone के पुराने मॉडल्स की बैटरी बदलना होगा महंगा

दुनिया भर में लोकप्रिय iPhone के पुराने मॉडल्स की बैटरी बदलने की कॉस्ट बढ़ने वाली है। इनमें iPhone 13 और उससे पुराने मॉडल्स शामिल हैं। Apple ने बताया है कि वह बैटरी रिप्लेसमेंट की कॉस्ट को लगभग 20 डॉलर बढ़ाने की योजना बना रही है। कंपनी अपनी वॉरंटी में आईफोन की बैटरी को शामिल नहीं करती।हालांकि, AppleCare+ के मेंबर्स अपने आईफोन की बैटरी को उसके वास्तविक कैपेसिटी के 80 प्रतिशत से कम पर होने पर उसे बिना अतिरिक्त कॉस्ट के बदलवा सकते हैं। Apple के सपोर्ट पेज पर बताया गया है कि बिना वॉरंटी वाले आईफोन 13 या इससे पुराने मॉडल्स की बैटरी रिप्लेसमेंट कॉस्ट 1 मार्च से लगभग 20 डॉलर बढ़ जाएगी। कंपनी अभी बिना वॉरंटी वाले iPhone 13, iPhone 12, iPhone 11 और iPhone X के बैटरी रिप्लेसमेंट के लिए 69 डॉलर का चार्ज लेती है। इसके अलावा iPhone SE, iPhone 8 और अन्य पुराने मॉडल्स के लिए यह चार्ज लगभग 49 डॉलर का है।

ऐसा बताया जा रहा है कि कंपनी ने अगली iPhone 15 सीरीज के स्मार्टफोन्स की बैटरी को पहले से बेहतर बनाने की योजना बनाई है। इन स्मार्टफोन्स में Apple A17 दिया जा सकता है, जो आईफोन के मौजूदा A16 Bionic चिप से 35 प्रतिशत तक अधिक एनर्जी एफिशिएंट हो सकता है।

एपल ने पिछले वर्ष ग्लोबल स्मार्टफोन मार्केट में रेवेन्यू के लिहाज से टॉप पोजिशन बरकरार रखी थी। कंपनी ने तीसरी तिमाही में स्मार्टफोन की सेल्स में लगभग 3 प्रतिशत की गिरावट के बावजूद रेवेन्यू में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाई है। कंपनी के एवरेज सेलिंग प्राइस में लगभग 10 प्रतिशत की बढ़ोतरी इसका बड़ा कारण है। एपल की कुल सेल्स में 5G फोन्स की हिस्सेदारी लगभग 46 प्रतिशत की थी। तीसरी तिमाही में ग्लोबल स्मार्टफोन मार्केट में रेवेन्यू के लिहाज से कंपनी की 42 प्रतिशत हिस्सेदारी थी। पिछले वर्ष तीसरी तिमाही में यह आंकड़ा 37.1 प्रतिशत का था। जुलाई से सितंबर के दौरान कंपनी के iPhone 14, iPhone 14 Pro और iPhone 14 Pro Max की सेल्स सबसे अधिक रही थी। मौजूदा वर्ष की चौथी तिमाही में अमेरिकी स्मार्टफोन मेकर Apple मार्केट शेयर में सैमसंग को पीछे छोड़कर सबसे बड़ी ग्लोबल स्मार्टफोन कंपनी बन सकती है। एपल का मार्केट शेयर बढ़कर 24.6 प्रतिशत होने की संभावना है। सैमसंग का मार्केट शेयर 22.2 प्रतिशत से घटकर लगभग 20.2 प्रतिशत हो सकता है। 

Leave a Comment