केंद्र ने की घोषणा अब राज्य सरकारें अपनी मर्जी से रेमडेसिविर इंजेक्शन की कर सकती हैं खरीद

नई दिल्ली, 29 मई 

केंद्र सरकार ने घोषणा की है कि अब राज्य सरकारें खुद अपनी जरूरत के हिसाब से रेमडेसिविर  इंजेक्शन खरीद सकती हैं। रसायन और उर्वरक राज्य मंत्री मनसुख मंडाविया ने शनिवार को ऐलान किया कि सरकार ने राज्यों को रेमडेसिविर के केंद्रीय आवंटन को बंद करने का फैसला किया है, साथ ही उन्होंने कहा कि नेशनल फार्मास्युटिकल्स प्राइसिंग एजेंसी और सीडीएससीओ को देश में रेमडेसिविर की उपलब्धता पर लगातार नजर रखने का निर्देश दिया गया है।

उन्होंने आगे कहा कि भारत सरकार ने आपातकालीन आवश्यकता के लिए इसे रणनीतिक स्टॉक के रूप में बनाए रखने के लिए रेमडेसिविर की 50 लाख शीशियों की खरीद करने का भी निर्णय लिया है। सरकार के मुताबिक अब देश में रेमडेसिविर इंजेक्शन बनाने के प्लांट 20 से बढक़र 60 हो गए हैं, साथ ही सरकार ने कहा है कि अब डिमांड से ज्यादा सप्लाई है। मंडाविया ने सोशल मीडिया पर ऐलान करते हुए लिखा, मुझे आप सभी को ये बताते हुए खुशी और संतुष्टि हो रही है कि रेमडेसिविर का उत्पादन दस गुना बढ़ गया है। पीएम मोदी के कुशल नेतृत्व में 11 अप्रैल 2021 को हर रोज़ 33,000 इंजेक्शन की वायल बन रही थी, लेकिन अब हर रोज़ ये बढ़ कर साढ़े 3 लाख पहुंच गया हैै।

Leave a Comment