AAP के तंज़ का भाजपा ने किया पलटवार, ‘केजरीवाल को कॉपी नहीं किया, भाजपा का..

The News Air- हिमाचल में आम आदमी पार्टी (AAP) का कोई जनाधार नहीं है। इसलिए केजरीवाल के मॉडल ऑफ़ गवर्नेंस को कॉपी करने का सवाल ही नहीं उठता। यह बात एक सवाल के जवाब में भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष सुरेश कश्यप ने शिमला में आयोजित प्रेस वार्ता में कही।
उन्होंने कहा कि हिमाचल विद्युत उत्पादक राज्य है। इसलिए हिमाचल दिवस पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने 125 यूनिट तक बिजली उपभोक्ताओं को निशुल्क देने का निर्णय लिया है। AAP की पूरी कार्यकारिणी भाजपा में शामिल हो गई है। ऐसी पार्टी कैसे मॉडल को कॉपी करने की बात कर सकती है। यह केजरीवाल नहीं भाजपा का अपना मॉडल है।

महंगे कृषि इनपुट पर ढुलमुल जवाब

किसानों को महंगी खाद, बीज और कीटनाशक को लेकर पूछे गए पत्रकार के सवाल के जवाब में सुरेश कश्यप ने ढुलमुल जवाब दिया। उन्होंने कहा कि कृषि इनपुट को लेकर जो संभव होगा, वह किया जाएगा। सेब पर आयात शुल्क बढ़ाने के मसले पर उन्होंने कहा कि WTO की संधि के कारण आयात शुल्क नहीं बढ़ाया जा रहा है। उन्होंने स्वयं यह मुद्दा केंद्र सरकार के समक्ष उठाया है।

जयराम ठाकुर ने लिए जनहितैषी फ़ैसले

सुरेश कश्यप ने कहा हिमाचल दिवस पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने जनहितैषी फ़ैसले लिए हैं। जयराम ठाकुर ने पूर्ण राजत्व दिवस पर 60 यूनिट बिजली मुफ़्त करने की बात कही थी, लेकिन हिमाचल दिवस पर इसे बढ़ाकर 125 यूनिट निशुल्क करके 11 लाख उपभोक्ताओं को राहत प्रदान की है। इस पर 250 करोड़ सरकार व्यय होंगे।

बस किराया कम करने से महिलाएं कर सकेंगी बचत

सुरेश कश्यप ने कहा कि मातृ- शक्ति के लिए मुख्यमंत्री ने बस किराए में 50 प्रतिशत की छूट देने का निर्णय लिया है। इससे आधी आबादी को फ़ायदा मिलेगा और महिलाएं बचत कर सकेंगी। इस बार के बजट में प्रदेश सरकार ने वृद्धा अवस्था पेंशन के लिए आयु सीमा घटाकर 60 साल की। इससे वृद्ध व्यक्ति लाभांवित होंगे।

जल जीवन मिशन में देशभर में सबसे बेहतर काम

सुरेश कश्यप ने कहा कि जल जीवन मिशन में हिमाचल ने बहुत बढ़िया काम किया गया है। बीते 50 सालों में मात्र 7 लाख 63 हज़ार घरों में नल लगाए गए, जबकि भाजपा के अढ़ाई साल के कार्यकाल में 8 लाख 33 हज़ार घरों में नल लगाए गए हैं। इस पर 814 करोड़ रुपए ख़र्च किए जाएंगे। उनकी सरकार ने अढ़ाई साल में 50 वर्षों से ज़्यादा कनेक्शन दिए है। इस साल के अंत तक 16 लाख घरों में नल लगाने का लक्ष्य निर्धारित है।

Leave a Comment