Aryan Khan Drug Case: ऑर्थर जेल रोड से 27 दिन बाद रिहा हुए आर्यन ख़ान; बेटे को घर ले जाने ख़ुद पहुंचे थे SRK

मुंबई, 30 अक्टूबर (The News Air)

एक दिन और विलंब के बाद आख़िरकार क्रूज़ ड्रग्स केस (Drugs Case) में फंसे शाहरूख ख़ान (Shahrukh Khan) के बेटे आर्यन ख़ान (Aryan Khan) शनिवार को ज़मानत पर जेल से रिहा हो गए। उन्हें आख़िरकार 28 अक्टूबर को बेल मिल गई थी। 30 अक्टूबर की सुबह 5.30 बजे जेल अधिकारियों ने ज़मानत आदेश( bail orders) लेने के लिए आर्थर जेल के बाहर लगी ज़मानत पेटी खोली। शुक्रवार को उन्हें जेल से रिहा होना था, लेकिन शाम 5.30 बजे तक रिलीज ऑर्डर की कॉपी जेल नहीं पहुंच सकी थी। ऐसे में उनकी रिहाई एक दिन और टल गई थी। आर्यन को लेने के लिए पिता शाहरूख ख़ान ख़ुद आर्थर रोड जेल पहुंचे थे।शाहरूख की रेंज रोवर गाड़ी जेल के गेट के ठीक सामने लगा दी गई थी। इस दौरान पुलिस को लाठी दिखाकर भीड़ को दूर करना पड़ा।

जूही चावला ने भरी है बेल

आर्यन का बेल बॉन्ड जूही चावला (Juhi Chawla) ने भरा है। शुक्रवार को उन्होंने सेशन कोर्ट पहुंचकर आर्यन के लिए बेल बॉन्ड भरा था। हालांकि ज़मानत पेपर आर्थर जेल देरी से पहुंचने के कारण उन्हें एक रात और जेल में गुजारनी पड़ी। इस बीच शाहरूख के बंगले और आर्थर रोड जेल के बाहर भारी भीड़ देखी गई। इसे देखते हुए मन्नत के बाहर सिक्युरिटी टाइट कर दी गई है। दरअसल, जेल की रिहाई का आदेश आर्थर रोड जेल के बाहर लगे ज़मानत बॉक्स में शाम 5.30 बजे से पहले डालना पड़ता है। कोर्ट से शुक्रवार क़रीब साढ़े सात बजे रिहाई का ऑर्डर जारी किया गया था। अगर ऐसा नहीं होता है, तो फिर बॉक्स अगले दिन सुबह 5.30 बजे खुलता है। कोर्ट से देरी से मिले आदेश और ट्रैफिक के कारण आर्यन की बेल के पेपर देरी से ज़मानत बॉक्स में डाले जा सके थे।

26 दिन बाद मिली बेल

22 दिनों से आर्थर रोल जेल में बंद आर्यन ख़ान को 26 बाद बॉम्बे हाईकोर्ट से ज़मानत मिल पाई थी। बॉम्बे हाईकोर्ट में 28 अक्टूबर को दोपहर 3 बजे शुरू हुई सुनवाई के बाद शाम को 4.45 पर कोर्ट ने फ़ैसला सुनाया। आरोपियों की ज़मानत का विरोध करते हुए एडिशनल सॉलिसिटर जनरल (ASG) अनिल सिंह ने NCB की तरफ़ से दलील दी थी, लेकिन वे बेल रुकवाने में नाकाम रहे।

2 अक्टूबर को NCB ने लिया था हिरासत में

आर्यन ख़ान 8 अक्टूबर से मुंबई की आर्थर रोड जेल में बंद थे। जेल में आर्यन को कैदी नंबर 956 मिला था। आर्यन ख़ान को 2 अक्टूबर को एनसीबी ने मुंबई के क्रूज़ कार्डेलिया से पकड़ा था। आर्यन का केस पूर्व अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी और उनकी टीम करंजवाला एंड कंपनी लड़ रही थी। इस टीम में सीनियर पार्टनर्स रुबी सिंह आहूजा, संदीप कपूर भी शामिल हैं। उनके अलावा आर्यन ख़ान के केस को सीनियर एडवोकेट अमित देसाई, सतीश मानशिंदे, आनंदिनी फर्नांडिस, रुस्तम मुल्ला भी लड़ रहे थे।

Leave a Comment