क़ानून व्यवस्था पर घिरी मान सरकार, विरोधी बोले -AAP के सत्ता में आने के बाद 18..

The News Air- पंजाब में क़ानून व्यवस्था की हालत पर CM भगवंत मान की अगुवाई वाली AAP सरकार घिर गई है। एक के बाद एक क़त्ल की वारदातों पर अब विरोधियों ने CM मान को घेर लिया है। पूर्व CM कैप्टन अमरिंदर सिंह, नवजोत सिद्धू, मनजिंदर सिरसा और परगट सिंह जैसे नेताओं ने मान सरकार को आड़े हाथों लिया है। विपक्षी नेताओं ने कहा कि AAP सरकार बनने के बाद 18 क़त्ल हो चुके हैं। इसे रोकने के बजाय CM भगवंत मान गुजरात और हिमाचल घूम रहे हैं। CM मान ने एक दिन पहले ही पंजाब में एंटी गैंगस्टर टास्क फोर्स (AGTF) बनाने का ऐलान किया है।

हर रोज़ 2-3 क़त्ल हो रहे, पंजाब अपराधियों के आसरे : परगट सिंह

कांग्रेस विधायक परगट सिंह ने कहा कि हर रोज़ 2 से 3 क़त्ल हो रहे हैं। गैंगस्टर बेख़ौफ घूम रहे हैं। बिना कुछ सोचे गोलियां चलाई जा रही हैं। पिछले कुछ दिनों में ही 18-20 युवकों का क़त्ल हो चुका है। रात फिर 11.30 बजे पंजाबी यूनिवर्सिटी पटियाला के सामने गोलियों से युवक की हत्या कर दी गई। यह अफसोसनाक है कि पंजाब में लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति नाज़ुक बनी हुई है और हमारे सीएम भगवंत मान हिमाचल की ठंडी वादियों का आनंद ले रहे हैं। पहले गुजरात टूर और अब हिमाचल, पंजाब को मान साहब से अपराधियों के आसरे छोड़ दिया है।

21 दिन में 19 क़त्ल : मनजिंदर सिरसा

भाजपा नेता मनजिंदर सिरसा ने कहा कि पंजाब में 21 दिन के भीतर 19 क़त्ल हो चुके हैं। पटियाला में आज 2 लोगों का क़त्ल हुआ। भगवंत मान जी, पंजाब की क़ानून व्यवस्था की तरफ़ ध्यान दो।

सिद्धू बोले- हर रोज़ 3-4 क़त्ल हो रहे, कुर्सी छोड़ दें मान

कांग्रेस नेता नवजोत सिद्धू ने कहा कि पंजाब में लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति पूरी तरह ध्वस्त हो चुकी है। वहीं CM भगवंत मान हिमाचल की ठंडी वादियों में वोट मांगने में व्यस्त हैं। पटियाला में 2 और हत्याएं हो गई। औसतन 3-4 क़त्ल रोज़ाना हो रहे हैं। राज्य के लोग ख़ौफ़ में हैं। सिद्धू ने भगवंत मान को कुर्सी छोड़ने तक की नसीहत दे दी। उन्होंने कहा कि अपना कर्तव्य निभाने का सबसे बढ़िया तरीक़ा यह है कि इसे छोड़ दें।

पुलिस को फ्री हैंड दे मान सरकार : कैप्टन अमरिंदर सिंह

पूर्व CM कैप्टन अमरिंदर सिंह ने कहा कि पंजाब में हाल में हिंसक घटनाओं में हुई बढ़ोतरी चिंताजनक हैं। पंजाब पुलिस ऐसे हालात से निपटने के लिए पूरी तरह सक्षम है। पंजाब सरकार को पुलिस को फ्री हैंड देना चाहिए ताकि वह ऐसे लोगों के ख़िलाफ़ कड़ी कार्रवाई कर सके। उन्होंने कहा कि पंजाब में बड़ी क़ुरबानी के बाद शांति आई है, इसलिए किसी को भी यहां की क़ानून व्यवस्था भंग करने की इजाज़त नहीं दी जा सकती।

Leave a Comment