मध्य प्रदेश में चल रहे ग़ैर कानूनी हथियारों के एक और मॉड्यूल का पर्दाफाश; 39 पिस्तौलों समेत दो काबू


चंडीगढ़, 14 जुलाई (The News Air)

मध्य प्रदेश से गैरकानूनी हथियारों की तस्करी के नैटवर्क को तोड़ने के लिए अपनी मुहिम को जारी रखते हुए पंजाब पुलिस ने आज मध्य प्रदेश आधारित दो व्यक्तियों की गिरफ्तारी के साथ गैरकानूनी हथियारों के निर्माण और राज्य में इन हथियारों की सप्लाई में शामिल एक और अंतर-राज्यीय मॉड्यूल का पर्दाफाश किया है।

डायरैक्टर जनरल ऑफ पुलिस (डीजीपी) दिनकर गुप्ता ने बताया कि अंतरराज्यीय कार्रवाई के दौरान स्टेट काउंटर इंटेलिजेंस, अमृतसर की टीम ने मध्य प्रदेश के बड़वानी ज़िले के गाँव जमली गायत्री धाम के रहने वाले जीवन (19) और बड़वानी (मध्य प्रदेश) के गाँव उमरती के विजय ठाकुर (25) को बड़वानी ज़िले के गाँव सेंधवा क्षेत्र से गिरफ्तार किया है और उनके पास से मैगज़ीनों समेत 39 पिस्तौलें (.32 बोर) बरामद की गई हैं।

ज़िक्रयोग्य है कि यह सफलता कपूरथला पुलिस द्वारा बड़वानी, मध्य प्रदेश से मुख्य सप्लायर की गिरफ्तारी के साथ एक ग़ैर-कानूनी हथियारों के सप्लाई नैटवर्क का पर्दाफाश किये जाने के चार दिनों बाद हासिल हुई है। बताने योग्य है कि पंजाब पुलिस द्वारा पिछले 8महीनों में बेनकाब किया गया यह मध्य प्रदेश का ऐसा चौथा मॉड्यूल है। इससे पहले अमृतसर ग्रामीण पुलिस ने हथियारों की तस्करी में शामिल व्यक्तियों, जो पंजाब में गैंगस्टरों, अपराधियों और कट्टरपंथियों को हथियार सप्लाई कर रहे थे, की गिरफ्तारी के साथ मध्य प्रदेश में एक ग़ैर कानूनी स्मॉल आर्म्ज़ मैनुफ़ेक्चरिंग यूनिट समेत ऐसे दो मॉड्यूलों का पर्दाफाश किया था।

यह चिंता ज़ाहिर करते हुए कि मध्य प्रदेश के ज़िला खड़गोन, बड़वानी और बुरहानपुर के क्षेत्र बेहतर गुणवत्ता के .30 बोर और .32 बोर हथियारों के निर्माण और देश भर में गैंगस्टरों और अपराधियों को इनकी सप्लाई के लिए एक बड़े बेस के तौर पर उभर रहे हैं, डी.जी.पी. ने कहा कि मध्य प्रदेश में ग़ैर कानूनी हथियार बनाने वाली इकाईयों का पर्दाफाश करने के अलावा, पंजाब पुलिस की अलग अलग इकाईयों ने इससे पहले राज्य में मध्य प्रदेश के बने हुए ग़ैर कानूनी हथियारों की बड़ी खेप बरामद की थीं। प्राप्त जानकारी के अनुसार पंजाब पुलिस द्वारा सितम्बर, 2020 से अब तक मध्य प्रदेश के बने हुए तकरीबन 122 ग़ैर कानूनी हथियार बरामद किये गए हैं।

इस सम्बन्धी जानकारी देते हुए डीजीपी दिनकर गुप्ता ने बताया कि काउंटर इंटेलिजेंस अमृतसर ने 12 जून 2021 को तरन तारन वासी हीरा सिंह और हरमनदीप सिंह नामी दो व्यक्तियों को गिरफ्तार किया था और उनसे तीन देसी पिस्तौल और गोली सिक्का बरामद किया गया था और उनकी पूछताछ के दौरान यह खुलासा हुआ था कि उन्होंने यह हथियार मध्य प्रदेश से ख़रीदे थे।

डीजीपी दिनकर गुप्ता ने बताया कि प्राप्त जानकारी के आधार पर समूचे मॉड्यूल का पर्दाफाश करने के लिए इंस्पेक्टर इन्द्रदीप सिंह के नेतृत्व में एक विशेष टीम को मध्य प्रदेश भेजा गया। उन्होंने बताया कि प्राथमिक पड़ताल से यह पता चला कि यह हथियार पंजाब के अलग-अलग आपराधिक गिरोहों और अन्य देश विरोधी तत्वों को सप्लाई किये जाने थे।

बताने योग्य है कि इस सम्बन्धी आर्म्स एक्ट की धारा 25 के अंतर्गत पुलिस थाना स्टेट स्पैशल ऑपरेशन सैल, अमृतसर में एफ.आई.आर. नंबर 15 तारीख़ 12.06.2021 पहले ही दर्ज है।


Leave a comment

Subscribe To Our Newsletter

Subscribe To Our Newsletter

Join our mailing list to receive the latest news and updates from our team.

You have Successfully Subscribed!