अभिनेत्री कंगना रनोट मुश्किल में:19 अप्रैल को बठिंडा कोर्ट में पेश होने के आदेश

The News Air – बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनोट मुश्किल में आ गई है। उन्हें 19 अप्रैल को बठिंडा कोर्ट में पेश होने को कहा गया है। कंगना ने बुज़ुर्ग महिला को 100-100 रुपए लेकर धरने में शामिल होने वाली औरत कहा था। जिसके ख़िलाफ़ महिला ने कोर्ट में केस दायर कर दिया था। बठिंडा के गांव बहादुरगढ़ जंडिया की रहने वाली 87 वर्षीय महिला किसान महिंदर कौर को लेकर कंगना ने ट्वीट किया था। जिसके बाद महिंदर कौर ने बठिंडा कोर्ट में मानहानि का केस कर दिया।

13 महीने चली सुनवाई

बुज़ुर्ग किसान महिला महिंदर कौर के वकील रघबीर सिंह बहनीवाल ने बताया कि इस मामले में 4 जनवरी 2021 को कोर्ट में केस दायर किया था। जिसकी क़रीब 13 महीने सुनवाई चली। अब कोर्ट ने कंगना को सम्मन जारी कर दिया है। उन्हें कोर्ट में पेश होने को कहा गया है।

यह दायर की थी याचिका

कंगना रनोट ने किसान आंदोलन में शामिल बुज़ुर्ग महिला किसान मोहिंदर कौर को बिलकिस बानो समझ लिया था, जो शाहीन बाग़ में एंटी CAA प्रोटेस्ट का चेहरा रहीं। मोहिंदर कौर ने कहा कि कंगना ने उनकी तुलना किसी दूसरी महिला से की। उन्होंने कहा कि कंगना के ट्वीट से उन्हें मानसिक परेशानी हुई। परिवार के सदस्यों, रिश्तेदारों, पड़ोसियों, ग्रामीणों और आम लोगों के बीच उनकी छवि को ठेस पहुँची है।

पंजाब में हुआ था कंगना का विरोध

इससे पहले कंगना रनोट को किसानों ने कीरतपुर साहिब में भी घेर लिया था। जहां उनकी इसी टिप्पणी का विरोध जताया गया। किसानों ने उनकी कार को घेरकर रखा और माफ़ी मांगने को कहा। हालांकि कंगना ने वहाँ कहा कि उन्होंने शाहीन बाग़ प्रोटेस्ट के लिए यह बात कही थी। किसानों ने कंगना के माफ़ी मांगने की बात कही थी लेकिन कंगना ने इस बात से इन्कार किया था। कंगना उस वक़्त हिमाचल से पंजाब के रास्ते चंडीगढ़ आ रहीं थी।

Leave a Comment