पंजाब में मान सरकार का ‘खौफ’: AAP समर्थक बोला ..

The News Air- चंडीगढ़- पंजाब में आम आदमी पार्टी (AAP) की सरकार बनने का असर नजर आने लगा है। चुनाव में आप को वोट देने वाले व्यक्ति ने दावा किया कि उसकी बिना रिश्वत के रजिस्ट्री हुई। इस बार तहसीलदार का रवैया भी नरम था। वहीं मोगा में एक पटवारी ने नोटिस ही लगा दिया कि रिश्वत देना सख्त मना है। आम आदमी पार्टी सोशल मीडिया के जरिए इसे CM भगवंत मान सरकार का खौफ बता रही है।

स्वर्ण गिल बोले- 5 से 7 हजार लेते थे रजिस्ट्री के, आज मुफ्त हुई

आम आदमी पार्टी ने एक ऑडियो रिकॉर्डिंग जारी की है। जिसमें स्वर्ण गिल नाम के व्यक्ति ने कहा कि आज आप की सपोर्ट कर और वोट देकर मन बहुत खुश है। आज रजिस्ट्री करवाकर आया हूं। जो तहसीलदार पहले रजिस्ट्री की 5 से 7 हजार से कम रिश्वत नहीं लेता था। यही नहीं, पैसे लेकर भी लोगों को आंखे दिखाता था। आज वही नरम बैठा था। बिना पैसे के रजिस्ट्री की और साथ के साथ दे भी रहे थे। गिल ने कहा कि ईमानदारी के आगे सारे सीधे हो गए हैं। यह लोग पैसे लेकर भी आदमी को आदमी नहीं समझते थे।

d1221d53 f148 4c97 86f5 2493ecd503b1 1647745833

नोटिस लगाने वाला पटवारी बोला- विभाग तो यूं ही बदनाम

मोगा में पटवारी निरवैर सिंह ने नोटिस लगाया कि इस दफ्तर में रिश्वत देना सख्त मना है। अगर कोई रिश्वत मांगे तो मुझसे संपर्क करें। यही नहीं पटवारी ने सरकारी फीस भी डिसप्ले की है। जिसमें कहा गया कि फीस देने के बाद रसीद जरूर लें। पटवारी निरवैर सिंह ने कहा कि लोग गलत काम करने का दबाव डालते थे। उनका विभाग तो यूं ही बदनाम है। उनके यहां भ्रष्टाचार और गलत कामों के लिए कोई जगह नहीं है।

अफसरों का ‘वेट एंड वॉच’ का पुराना रवैया

रिश्वतखोरी को लेकर इन मामलों से भले ही AAP खुश हो लेकिन सरकार के बदलाव में यह ट्रेंड पहले भी रहा है। जब भी नई सरकार आती है तो कुछ वक्त के लिए रिश्वत लेने वाले अफसर और कर्मचारी ‘वेट एंड वॉच’ की स्थिति में आ जाते हैं। अगर नई सरकार में भी भ्रष्टाचार पर सख्ती न हुई तो यह काम फिर शुरू हो जाता है। हालांकि अगर सरकार या सीनियर अफसर सख्त हो तो फिर इस पर अंकुश लग सकता है। पंजाब की नई मान सरकार के लिए यह जरूर चुनौती रहेगी।

CM मान 23 मार्च को जारी करेंगे नंबर

पंजाब के नए CM भगवंत मान 23 मार्च को एंटी करप्शन हेल्पलाइन नंबर जारी करने वाले हैं। मान ने कहा कि शहीद भगत सिंह की बरसी पर इसका ऐलान होगा। इसके बाद कोई रिश्वत मांगे तो उसे मना नहीं करना। उनकी ऑडियो या वीडियो रिकॉर्डिंग कर भेज देना। उनकी सरकार सख्त कार्रवाई करेगी। मान वॉट्सऐप नंबर जारी करेंगे। उनका कहना है कि यह नंबर मेरा होगा। जिस पर आने वाली शिकायत की वह खुद निगरानी करेंगे।

Leave a Comment