पैगंबर मोहम्मद पर नूपुर शर्मा की विवादित टिप्पणी के खिलाफ दुनिया के 15 देश जता चुके हैं विरोध, पढ़िए अब तक की 10 बड़ी बातें

Remarks on Prophet Mohammad Row: पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी (BJP) के दो पूर्व नेताओं नूपुर शर्मा (Nupur Sharma) एवं नवीन कुमार जिंदल (Naveen Kumar Jindal) की कथित विवादित टिप्पणियों के बाद शुरू हुआ विवाद बढ़ता ही जा रहा है। ईरान, कुवैत, कतर और पाकिस्तान समेत कई देशों ने पैगंबर को लेकर की गई टिप्पणी के खिलाफ भारतीय राजदूत को तलब किया। वहीं, दुनिया के करीब 15 देश अब तक विवादित टिप्पणी पर अपना विरोध जता चुके हैं।

विवादास्पद टिप्पणी के बाद अरब में भारतीय उत्पादों के बहिष्कार करने की अपील भी ट्विटर पर ट्रेंड हुई। भारत सरकार ने विभिन्न देशों का गुस्सा शांत करने की कोशिश करते हुए कहा है कि वे सभी धर्मों का सम्मान करते हैं। हालांकि, कई देशों की नाराजगी अभी तक खत्म नहीं हुई है। BJP नेताओं की पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ विवादित टिप्पणी की निंदा करने की सूची में कई और देश शामिल हो गए हैं।

दोनों नेताओं को BJP  ने पार्टी ने किया बाहर

BJP ने विवादित बयानों के लिए अपनी राष्ट्रीय प्रवक्ता नूपुर शर्मा को रविवार 5 जून को पार्टी से निलंबित कर दिया। वहीं, दिल्ली इकाई के मीडिया प्रमुख नवीन कुमार जिंदल को पार्टी नेतृत्व ने बीजेपी से निष्कासित करने का फैसला लिया।

टिप्पणियों को लेकर मुस्लिम समुदाय के विरोध के बीच केंद्र में सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी ने एक तरह से दोनों नेताओं के बयानों से किनारा करते हुए कहा कि वह सभी धर्मों का सम्मान करती है। भगवा पार्टी ने कहा कि उसे किसी भी धर्म के पूजनीय लोगों का अपमान स्वीकार्य नहीं है।

पढ़िए, विवाद से जुड़ी 10 बड़ी बातें

– ईरान, इराक, कुवैत, कतर, सऊदी अरब, ओमान, ईरान, संयुक्त अरब अमीरात (UAE), जॉर्डन, अफगानिस्तान, बहरीन, मालदीव, लीबिया और इंडोनेशिया सहित कम से कम 15 देश अब तक विवादास्पद टिप्पणी को लेकर भारत के खिलाफ आधिकारिक विरोध दर्ज करा चुके हैं।

– इंडोनेशिया, सऊदी अरब, संयुक्त अरब अमीरात, बहरीन और अफगानिस्तान सोमवार को उन मुस्लिम देशों में शामिल हो गए, जिन्होंने भारतीय जनता पार्टी की पूर्व नेता नूपुर शर्मा की पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ विवादित टिप्पणी की निंदा की।

– सऊदी अरब के विदेश मंत्रालय ने इस्लाम धर्म के प्रतीकों के खिलाफ पूर्वाग्रहों के प्रति अपनी अस्वीकृति को दोहराया। उसने सभी धार्मिक शख्सियतों एवं प्रतीकों के खिलाफ पूर्वाग्रह को बढ़ावा देने वाली हर चीज को खारिज किया। सऊदी ने पार्टी प्रवक्ता को निलंबित करने के बीजेपी के कदम का स्वागत किया है।

– सबसे ज्यादा मुस्लिम आबादी वाले इंडोनेशिया ने भी टिप्पणी की कड़ी निंदा की। उसने इसे दो भारतीय राजनीतिक नेताओं द्वारा पैगंबर के खिलाफ अस्वीकार्य अपमानजनक टिप्पणी करार दिया। इंडोनेशिया के विदेश मंत्रालय ने ट्वीट कर कहा कि यह संदेश जकार्ता में भारतीय राजदूत को दे दिया गया है।

– UAE ने भी पैगंबर का अनादर करने वाली विवादित टिप्पणी की निंदा की और इसे खारिज किया। विदेश और अंतरराष्ट्रीय सहयोग मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि यूएई दृढ़ता से उन सभी प्रथाओं और व्यवहारों को खारिज करता है जो नैतिक और मानवीय मूल्यों एवं सिद्धांतों के खिलाफ हैं।

– जॉर्डन ने भी भारतीय जनता पार्टी नेता की आपत्तिजनक टिप्पणी की कड़े शब्दों में निंदा की, जिन्हें पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निलंबित कर दिया गया है।

– बहरीन के विदेश मंत्रालय ने पार्टी प्रवक्ता को निलंबित करने के बीजेपी के फैसले का स्वागत करते हुए जोर दिया कि पैगंबर मोहम्मद का अपमान करने वाली टिप्पणियों की निंदा करने की जरूरत है, क्योंकि यह मुसलमानों की भावनाओं और धार्मिक नफरत को भड़काती हैं।

– अफगानिस्तान की सबसे बड़ी स्वतंत्र समाचार एजेंसी पझवोक न्यूज़ ने खबर दी है कि तालिबान के नेतृत्व वाली अफगानिस्तान की अंतरिम सरकार ने पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी की कड़ी निंदा की है।

– इसके अलावा 57 सदस्य वाले इस्लामी सहयोग संगठन (OIC) ने भी पैगंबर के खिलाफ बीजेपी नेता की टिप्पणी की कड़ी निंदा की है। OIC ने संयुक्त राष्ट्र से भारत के मुसलमानों को अधिकारों को सुनिश्चित करने के लिए जरूरी उपाय करने का भी आग्रह किया है।

– इससे पहले, कतर, ईरान और कुवैत ने पैगंबर मोहम्मद के बारे में बीजेपी नेता की विवादित टिप्पणियों को लेकर रविवार को भारतीय राजदूतों को तलब किया था। खाड़ी क्षेत्र के महत्वपूर्ण देशों ने इन टिप्पणियों की निंदा करते हुए कड़ी आपत्ति दर्ज कराई थी।

Leave a Comment